शनिवार को केन्द्र सरकार ने पेट्रोल-डीज़ल पर एक्साइज़ ड्यूटी 3 रुपये प्रति लीटर बढ़ा दी है. हालांकि, अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में Crude Oil सस्‍ता होने के बावजूद भारतीय ग्राहकों को इसका लाभ नहीं मिल रहा है.

Source: telegraphindia

केंद्र सरकार की आधिकारिक अधिसूचना के मुताबिक़ पेट्रोल पर स्‍पेशल एक्‍साइज़ ड्यूटी 2 रुपये बढ़ा कर 8 रुपये कर दी गई है. जबकि डीज़ल की स्‍पेशल एक्‍साइज़ ड्यूटी बढ़ा कर 4 रुपये प्रति लीटर कर दी गई है. इसके अलावा पेट्रोल और डीज़ल दोनों पर रोड सेस 1 रुपये प्रति लीटर बढ़ा कर 10 रुपये कर दिया गया है.

हालांकि, केन्द्र सरकार द्वारा पेट्रोल-डीज़ल पर एक्साइज़ ड्यूटी बढ़ाए जाने के बावजूद, आज दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 13 पैसे कम हुई है, जबकि चेन्नई में 14 पैसे. वहीं डीज़ल की बात करें, तो दिल्ली में 31 पैसे कम, कोलकाता में 16 पैसे, जबकि मुंबई और चेन्नई में 17 पैसे डीज़ल सस्ता हुआ है.

Source: livemint

इंडियन ऑइल की वेबसाइट के मुताबिक़, दिल्ली में अब 1 लीटर पेट्रोल के लिए लोगों को 69.87 रुपये चुकाने होंगे. वहीं कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम 72.57 रुपये प्रति लीटर हो गया है. वहीं दिल्ली में 1 लीटर डीज़ल के लिए 62.58 रुपये, कोलकाता में 64.91 रुपये, मुंबई में 65.51 रुपये और चेन्नई में 66.02 रुपये देने होंगे.

क्यों बढ़ाई गई एक्साइज़ ड्यूटी?

अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में तेल की कीमतों में गिरावट से होने वाले लाभ को बढ़ाने की कोशिश में सरकार ने ये फैसला लिया है. एक्साइज़ ड्यूटी में बढ़ोतरी के कारण सामान्य तौर पर पेट्रोल व डीज़ल की कीमतों में वृद्धि देखी जाती है, लेकिन ये कीमत अंतर्राष्ट्रीय दरों में गिरावट के हिसाब से समायोजित हो जाएगी. इस लिहाज़ से पेट्रोल व डीज़ल की कीमतों में इज़ाफ़ा नहीं होगा.

Source: livemint

सरकार को 39,000 करोड़ रुपये का लाभ

एक्साइज़ ड्यूटी 3 रुपये प्रति लीटर बढ़ाए जाने से केंद्र सरकार को सालाना 39,000 करोड़ रुपये अतिरिक्त लाभ मिलेगा. इस फैसले से अर्थव्यवस्था में आई गिरावट से जूझ रही सरकार को अतिरिक्त धन जुटाने में मदद मिलेगी.

एक्साइज़ ड्यूटी में बढ़ोतरी के बाद ट्विटर पर '3 रुपये' ट्रेंड करने लगा है-