पूर्वी भारत के राज्य चक्रवात फणी की चपेट में हैं. ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. ये पिछले एक दशक में आया सबसे ख़तरनाक चक्रवात है, जो आज सुबह ओडिशा पहुंच गया.

Source: Twitter

आर्मी, नेवी, कोस्ट गार्ड्स और आपदा प्रबंधन की टीम तैनात हो चुकी है. ये लोग बचाव कार्य के लिए चुस्ती के साथ खड़े हैं. हालांकि ख़बर आ रही है कि अब तक 6 लोग इस चक्रवात की वजह से हताहत हुए हैं.

फणी की तीव्रता को दर्शाने के लिए भारतीय नेवी ने अपने जहाज़ की एक तस्वीर ट्वीट की है.

एक तस्वीर में भीगे हुए डेक को दिखाया गया है, जहां पानी फैला हुआ है.

Source: Twitter

इससे पहले नेवी ने एक और तस्वीर ट्वीट की थी, जिसमें वो चक्रवात से निपटने की तैयारी दिखा रहे थे.

IMD ने अनुमान लगाया है कि चक्रवात पूर्व से उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ेगा. हालांकि 6 घंटे के भीतर इसकी तीव्रता कम हो जाएगी. फानी की तेज़ी कम होने की ख़बर आनी शुरू भी हो चुकी है.

फणी जब ओडिशा से टकराया, तब राज्य के कई तटीय इलाके जलमग्न हो गए और भारी बारिश का सामना करना पड़ा. फानी 1999 के बाद आया अब तक का सबसे तीव्र गति की चक्रवात है.