कोरोना वायरस के संकट के बीच दुनिया की दो बड़ी कंपनियों के बीच एक ऐसी डील हुई है. इस डील से कोरोना संकट से जूझ रहे देश के करोड़ों किराना दुकानदारों में कि़स्मत बदल सकती है. दुनिया की दिग्गज़ कंपनी Facebook Inc. ने भारत की Reliance Jio में 43,574 करोड़ रुपये के निवेश का सौदा किया है.

Source: businesstoday

दरअसल, फ़ेसबुक ने रिलायंस जियो में 9.9 फ़ीसदी हिस्सेदारी ख़रीदने के लिए सौदा किया है. इस डील का असल मक़सद रिलायंस के JioMart और फ़ेसबुक के Whatsapp के ज़रिये कोरोना संकट से जूझ रहे देश के करोड़ों किराना दुकानदारों और ग्राहकों को जोड़ना है.

Source: datareign

इन दोनों दिग्गज़ कंपनियों के बीच इस सौदे के साथ ही रिलायंस रिटेल लिमिटेड और वॉट्सऐप के बीच भी एक डील हुई है. इसके साथ ही रिलायंस रिटेल पहले से ही इस कारोबार में लगे Amazon और Flipkart को कड़ी टक्कर देने जा रही है.

Source: newsdogapp

मुकेश अम्बानी के स्वामित्व वाली रिलायंस पिछले कुछ समय से भारत के लाखों किराना दुकानदारों को अपने साथ जोड़ने की महत्वाकांक्षी योजना पर काम कर रही है. इसके लिए उसने अपना एक नया ई-कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म JioMart बनाया है. फ़ेसबुक के साथ हुई डील के बाद अब रिलायंस के लिए फ़ेसबुक मैसेंजर और वॉट्सऐप के ज़रिए किराना दुकानदारों से डायरेक्ट संपर्क किया जा सकेगा.

Source: datareign

दरअसल, Amazon और Flipkart जैसी दिग्गज़ कंपनियों को कड़ी टक्कर देने के मकसद से 'रिलायंस रिटेल लिमिटेड' ने पिछले साल ही 'JioMart' की सॉफ़्ट लॉन्चिंग कर दी थी. जियो मार्ट में रजिस्ट्रेशन के लिए कंपनी ने मुंबई के नवी मुंबई, ठाणे और कल्याण से जियो टेलीकॉम यूजर्स को आमंत्रण भी भेजना शुरू कर दिया था.

Source: entrackr

रिलांयस का कहना है कि भारतीय ग्राहकों की ज़रूरतों को बेहतर तरीके से पूरा करने के लिए वो लाखों छोटे दुकानदारों से साझेदारी कर रही है. JioMart के ज़रिए यूजर्स को 50 हज़ार से अधिक ग्रोसरी प्रोडक्ट्स और फ़्री होम डिलीवरी मिलेगी. हमने इसे 'देश की नई दुकान' नाम दिया है.

Source: newsdogapp

इंडिया इंफ़ोलाइन का कहना है कि इस डील से मिली रकम का इस्तेमाल रिलायंस इंडस्ट्रीज़ अपने कर्ज़ को चुकाने में कर सकती है. आरआईएल का 28000 करोड़ रुपये का कर्ज़ कम हो सकता है. वहीं RIL-BP डील से भी कंपनी को 7,000 करोड़ रुपये और मिलेंगे. ऐसे में इस कंपनी को काफ़ी फ़ायदा होगा.