मध्यप्रदेश सरकार की नई आबकारी नीति के तहत अब शराब की बिक्री ऑनलाइन भी की जाएगी. मतलब अब आप घर बैठे शराब मंगवा सकते हैं. राजस्व बढ़ाने के लिए कमल नाथ सरकार की इस नई नीति के तहत सिर्फ़ विदेशी शराब ही ऑनलाइन ख़रीदी जा सकती है.

Source: myonlineca

इस नई नीति के तहत कमल नाथ सरकार अब शराब की अवैध बिक्री को रोकने के लिए हर बोतल में बार कोड लगाने की व्यवस्था भी करने जा रही है.

Source: indiatvnews

नई आबकारी नीति में ख़ास बात ये है कि मध्य प्रदेश में शराब की कोई नई दुकान नहीं खोली जाएगी. जबकि आबकारी विभाग ने पहले प्रस्ताव दिया था कि शराब की दुकान के 5 किलोमीटर के दायरे में यदि कोई दुकान नहीं है तो वहां शराब की उप-दुकान खोली जा सकेगी.

Source: myonlineca

हालांकि, आबकारी नीति 2020-21 के तहत वर्तमान में मौजूद 2,544 देशी शराब की दुकानों और 1,061 विदेशी शराब दुकानों की संख्या में कोई बढ़ोत्तरी नहीं की जाएगी. लेकिन इनकी नीलामी पिछले साल की तुलना में 25 फ़ीसदी अधिक क़ीमत पर होगी.

सरकार के मुताबिक़ अंगूर की खेती करने वाले किसानों को प्रोत्साहन देने के लिए, अंगूर से बनी वाइन के प्रचार-प्रसार के लिए पर्यटन स्थलों पर 15 नए वाइन आउटलेट खोले जाएंगे. इन आउटलेट्स की सालाना फ़ीस मात्र 10,000 रुपये होगी.

Source: indiatvnews

बीजेपी के स्थानीय नेताओं ने राज्य सरकार के इस फ़ैसले का विरोध किया है. प्रदेश संगठन में उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा ने ट्वीट कर इसे शराबखोरी बढ़ाने वाला कदम बताया है.