मंगलवार से दिल्ली की DTC और Cluster बसों में महिलाएं मुफ़्त में सफ़र कर पाएंगी. इन बसों में महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 13000 मार्शल और 6000 सिविल डिफ़ेंस Personnel की नियुक्ति की गई है.


Thyagraj Stadium में आयोजित ट्रेनिंग सेशन में बस मार्शल्स को बीमारों और इमरजेंसी परिस्थितियों में लोगों की सहायता करने की ट्रेनिंग दी गई.

Source: Twitter

Times of India की रिपोर्ट के अनुसार, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मार्शल्स को महिलाओं का इतना ध्यान रखने को कहा है कि उन्हें बस में भी घर जैसा माहौल महसूस हो.

दिल्ली के 2 करोड़ लोग मेरे परिवार की तरह हैं और मैं इस परिवार का बड़ा बेटा हूं. मुझे मेरे परिवार के हर एक सदस्य का ध्यान रखना होगा. ये मेरा कर्तव्य है कि हर शख़्स को 200 यूनिट तक 24 घंटे मुफ़्त बिजली मिले, मैं अपने बुज़ुर्गों को तीर्थ यात्रा पर भेज सकूं और उन्हें सुखी जीवन के लिए हर सुविधा दे पाऊं. पर मेरे परिवार की महिलाओं की सुरक्षा मेरे लिए चिंता का विषय है.

- अरविंद केजरीवाल

तक़रीबन 1.5 करोड़ पिंक पास प्रिंट करवाए गए हैं. ये पास महिलाओं को दिए जाएंगे. इन पर महिला सशक्तिकरण का एक संदेश भी लिखा होगा. DTC अधिकारियों का अनुमान है कि रोज़ाना 10 लाख पास दिए जाएंगे.


ट्रांसपोर्ट मंत्री से अप्रूवल के बाद बीते सोमवार रात 10 बजे बसों में महिलाओं के मुफ़्त सफ़र करने का नोटिफ़िकेशन जारी किया गया.

जून में मुख्यमंत्री केजरीवाल ने महिलाओं को DTC, Cluster बसों और दिल्ली मेट्रो में मुफ़्त सेवा देने की पेशकश की थी. इसके लिए 290 करोड़ का बजट बनाया गया है जिसमें 90 करोड़ DTC बसों को, 50 करोड़ Cluster बसों को और 150 करोड़ मेट्रो ट्रेन्स को देने की बात थी.