जल्दी सुबह उठना फिर ऑफ़िस के लिए भागना और जाम में फंस जाना. दिल्ली, मुम्बई, कोलकता और बैंगलुरु जैसे बड़े शहरों में अक्सर कामकाजी लोगों का डेली रूटीन कुछ इसी तरह का होता है.

Source: wired

सबसे ज़्यादा गुस्सा उस वक़्त आता है जब घर से जल्दी निकलने के बावजूद हम ट्रैफ़िक में फंस जाते हैं. लेकिन छोटे शहरों और दूर दराज़ के इलाकों में रहने वाले लोगों की ज़िंदगी में कहीं न कहीं एक सुकून ज़रूर है.

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक़ आईएएस अधिकारी सुप्रिया साहू इन दिनों तमिलनाडु में तैनात हैं. इस दौरान उन्होंने घर से ड्यूटी पर जाते वक़्त कार से नीलगिरी ज़िले की ख़ूबसूरत वादियों और वहां की बिना ट्रैफ़िक वाली सड़क का एक वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया.

Source: twitter

आईएएस अधिकारी सुप्रिया साहू ने ट्विटर पर 41 सेकंड का एक वीडियो शेयर किया है. वीडियो के कैप्शन में उन्होंने लिखा है #RoadToWork. सुप्रिया ने इसके साथ ही लिखा 'ये है मेरा घर से ऑफ़िस का मार्ग' आप भी अपना भेजिए.

बस फिर क्या था कुछ लोगों ने दिल्ली, मुम्बई, कोलकता और बैंगलुरु जैसे बड़े शहरों में दिन रात ट्रैफ़िक से परेशान होने वाले वीडियो बनाकर शेयर किए तो कुछ ने शहरों की भागदौड़ भरी ज़िंदगी से दूर गांव के ख़ुशहाल वातावरण के वीडियो शेयर किये-

आईएएस अधिकारी सुप्रिया साहू द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो को अब तक करीब 2.3 लाख देख चुके हैं.