बीते गुरुवार को गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली-कटरा 'वंदे भारत एक्सप्रेस' को हरी झंडी दी. इस ख़ास मौके पर अमित शाह के अलावा रेल मंत्री पीयूष गोयल, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह भी मौजूद थे.

दिल्ली से कटरा के बीच चलने वाली हाई स्पीड 'वंदे भारत एक्सप्रेस' 5 अक्टूबर से व्यवसायिक तौर पर शुरू होगी. हालांकि, टिकटों की बुकिंग IRCTC की वेबसाइट पर शुरू हो गई है.

Source: patrika

इन 6 ख़ूबियों के साथ 'वंदे भारत एक्सप्रेस' आपको मां वैष्णो देवी के दर्शन कराने जा रही है-

1- 'वंदे भारत एक्सप्रेस' की सबसे ख़ास बात है ये ट्रेन पूरी तरह से 'मेड इन इंडिया' है.

Source: divyahimachal

2- 'वंदे भारत एक्सप्रेस' दिल्ली-कटरा के बीच 160 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से दौड़ेगी.

Source: news18

3- इस हाई स्पीड ट्रेन ने दिल्ली और कटरा के बीच की 12 घंटे की यात्रा को कम करके 8 घंटे कर दिया है.

Source: indiatoday

4- 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में 16 फ़ुल AC कोच होंगे. शानदार इंटीरियर और ऑटोमैटिक दरवाजे वाली इस ट्रेन में Wi-Fi, GPS और CCTV जैसी सुविधाएं भी होंगी.

Source: cntraveller

5- 'वंदे भारत एक्सप्रेस' के फ़र्स्ट क्लास में सीटें 360 डिग्री घूमने वाली होंगी. पढ़ाई के शौकीनों के लिए अलग से लाइटें भी होंगी. साथ ही सीटों की नंबरिंग ब्रेल लिपि में भी होगी.

Source: thehindubusinessline

6- 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में बायो-वैक्यूम शौचालय होंगे, जो एनारोबिक बैक्टीरिया की मदद से मलमूत्र को पानी और गैस में परिवर्तित करता है. इससे पटरियों पर फ़ैलने वाला कचरा भी कम होगा.

Source: ndtv

7- 'वंदे भारत एक्सप्रेस' नॉन स्टॉप होगी. अंबाला कैंट, लुधियाना और जम्मू तवी स्टेशनों पर सिर्फ़ 2-2 मिनट के लिए ही रुकेगी. ये ट्रेन मंगलवार को छोड़कर सप्ताह के सभी दिन चलेगी.

Source: aanavandi

8- नई दिल्ली से 'वंदे भारत एक्सप्रेस' सुबह 6 बजे चलकर दोपहर 2 बजे कटरा पहुंचेगी, जबकि वापसी में दोपहर 3 बजे कटरा से रवाना होकर रात 11 बजे नई दिल्ली पहुंचेगी.

Source: livemint

9- नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से श्रीमाता वैष्णो देवी कटरा के बीच चेयर कार (सीसी) का न्यूनतम किराया 1630 रुपया है, जबकि एग्जीक्यूटिव चेयर कार के लिए 3015 रुपये ख़र्च करने होंगे.

Source: livemint

10- दिल्ली-कटरा 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में 'डायनामिक फ़ेयर' लागू नहीं किया गया है. दिल्ली और वाराणसी के बीच चलने वाली 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में भी ये किराया प्रणाली लागू नहीं है.

Source: aanavandi

रेलवे बोर्ड के मेंबर रोलिंग स्टॉक राजेश अग्रवाल ने कहा कि, पहली वंदे भारत में जो कमियां थीं, उन्हें दूसरी ट्रेन में दूर किया गया है. जल्द ही इसी आधार पर दिल्ली-वाराणसी के बीच चलने वाली ट्रेनों की समस्या दूर की जाएगी. रेलवे सौ नई 'वंदे भारत' ट्रेन बनाने की योजना पर काम कर रहा है.

Source: news

पहली 'वंदे भारत एक्सप्रेस' को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली-वाराणसी मार्ग पर हरी झंडी दिखाई थी.