दिल्ली यूनिवर्सिटी के गार्गी कॉलेज की छात्राओं ने आरोप लगाया है कि कैंपस में उनके साथ छेड़छाड़ हुई और पुलिस मौन खड़ी देखती रही.


NDTV की एक रिपोर्ट के अनुसार, बीते गुरुवार को कॉलेज फ़ेस्ट Reverie के दौरान, शाम के 6:30 बजे के आस-पास शराब पीकर कई पुरुष कॉलेज में घुस आये और छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की.

NDTV से फ़ोन पर बात-चीत करते हुए एक छात्रा ने बताया, 'वो कॉलेज के छात्र नहीं थे. वो 30-35 की उम्र के आदमी थे. उनमें से आधों ने शराब पी हुई थी. हमारे पास उन आदमियों के कैंपस में सिगरेट पीते हुए वीडियोज़ भी हैं.'

Times of India की रिपोर्ट के अनुसार, छेड़छाड़ का शिकार हुई एख छात्रा ने बताया,

पुरुषों और महिलाओं की ऐन्ट्री के लिए अलग गेट्स होने थे. जब मैं घर से कैंपस पहुंची तो मैंने देखा कि पुरुष, महिलाओं वाले गेट से ऐन्ट्री ले रहे हैं. कई पुरुषों को 4 बजे बाद भी बिना ID दिखाए ऐन्ट्री मिली.

छात्रा ने ये भी बताया,

हिलने की भी जगह नहीं थी. मुझे 3 बार Grope किया गया और पुरुष मुझ पर हंस रहे थे. इस सब के बावजूद मुझे वहां 40 मिनट खड़े रहना पड़ा, मैं किसी तरह क्रिकेट ग्राउंड तक अपने दोस्तों के पास पहुंची.

छात्राओं का ये भी कहना है कि कुछ पुरुष शर्ट उतारकर घूम रहे थे और कुछ ने छात्राओं के सामने Masturbate किया. छात्राओं ने ये भी बताया कि कई मेडिकल एमरजेंसी के भी केस आएं. कई छात्राओं को Anxiety और Panic Attacks आए.

NDTV की रिपोर्ट के मुताबिक़, छात्राओं का आरोप है कि RAF (Rapid Action Force) पूरे कैंपस में खड़े थे पर किसी ने कुछ नहीं किया.


छात्राओं को जब कॉलेज प्रशासन ने निराश किया तब उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट डाले. छात्राओं ने सोमवार को कॉलेज के अंदर विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है.

IANS से बातचीत में प्रिंसिपल, प्रोमिला कुमार ने बताया कि उन्हें इस घटना की जानकारी नहीं थी.

कुछ छात्राओं की आपबीती:

एक ट्वीट के अनुसार, दिल्ली पुलिस की टीम गार्गी कॉलेज के सीसीटीवी फ़ुटेज की जांच करेगी.

ANI के ट्वीट के मुताबिक़, राष्ट्रीय महिला आयोग की एक टीम सोमवार को गार्गी कॉलेज पहुंची.