उत्तराखंड के औली में कुछ दिनों पहले अफ़्रीका के करोड़पति अतुल गुप्ता ने अपने दो बेटों की शादी करवाई. 200 करोड़ की लागत की इस शादी के बाद इस ख़ूबसूरत जगह का हुलिया ही बदल गया और यहां लगभग 4000 किलोग्राम कचरा जमा हो गया.

औली ने इस लेवल की न तो शादी देखी थी और न ही इस मात्रा में कचरा इकट्ठा होते देखा था. शादी के लिए 2 बड़े स्टेज, 1 ग्लासहाउस बनाया गया और फूलों का डेकोरेशन किया गया, जो सीधे स्वीट्ज़रलैंड से यहां पहुंचा था.

Source: ANI

India Today की रिपोर्ट के अनुसार, शादी की तैयारियों के दौरान ही शादी से पर्यावरण को होने वाले नुकसान को लेकर एक PIL फ़ाइल की गई थी पर शादी हुई और अब पर्यावरण और म्युनिसिपल कॉरपोरेशन उसकी मार झेल रहा है.


इस शादी में मुख्यमंत्री, कटरीना कैफ़ और योग गुरू बाबा रामदेव ने भी शिरकत की थी. बाबा रामदेव ने शादी में 2 घंटे का योग सेशन भी करवाया था.

जोशीमठ के नगर पालिका परिषद के सुपरवाइज़र, अनिल को इस गंदगी की सफ़ाई करने की ज़िम्मेदारी दी गई है.

Source: ANI

स्थानीय निवासियों ने ANI से बातचीत में बताया कि हर तरफ़ प्लास्टिक के पैकेट और बोतल फैले हुए हैं.


एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार, गुप्ता परिवार ने नगर निगम में 54 हज़ार रुपए जमा करवाए हैं और सफ़ाई का पूरा ख़र्च उठाने के लिए भी तैयार हैं. नैनीताल हाई कोर्ट ने ज़िला प्रशासन और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को भी निर्देश दिया है कि कचरे के कारण पर्यावरण को होने वाले नुकसान पर 7 जुलाई तक रिपोर्ट दे. कोर्ट के आदेश के बाद आयोजकों ने सिक्योरिटी के तौर पर 3 करोड़ रुपए 2 किश्तों में जमा करवाए हैं.

क्या पर्यावरण, प्रकृति कोई मायने नहीं रखती. इतना बड़ा आयोजन करने की आज्ञा दी ही क्यों गई?