कोरोना संकट के बीच हरियाणा सरकार ने छात्रों की सुरक्षा को लेकर एक अच्छी पहल शुरू की है. हरियाणा बोर्ड के स्कूलों से 10वीं की परीक्षा पास करने वाले जो छात्र राज्य के सरकारी स्कूलों में 11वीं क्लास में एडमिशन लेना चाहते हैं वो WhatsApp के ज़रिए एडमिशन ले सकते हैं.

Source: ndtv

इस दौरन छात्रों को 10वीं क्लास का रिज़ल्ट और ज़रूरी दस्तावेज़ संबंधित स्कूल के प्रिंसिपल को WhatsApp पर भेज सकते हैं और एडमिशन ले सकते हैं. छात्रों को फ़िलहाल एडमिशन के लिए कोई फ़ीस भी जमा करने की आवश्यकता नहीं है.

Source: seelatest

हरियाणा के मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) की आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, कोविड-19 महामारी को देखते हुए छात्रों के हित में ये फ़ैसला लिया गया है.

इस मामले में हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा, छात्रों की सुरक्षा के मद्देनज़र राज्य सरकार की इस पहल से छात्र अपने घरों में रहते हुए भी 11वीं क्लास में एडमिशन ले सकेंगे.

Source: livehindustan

हरियाणा बोर्ड ने हाल ही में 10वीं का रिज़ल्ट जारी किया था. बोर्ड द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक़ इस साल 64.59% छात्र पास हुए हैं, जिसमें से 69.86% छात्राएं और 60.27% छात्रों पास हुए हैं. इस साल कुल 3,37,691 छात्रों ने 10वीं की परीक्षा में हिस्सा लिया था, जिसमें 2,18,120 छात्र पास हुए हैं.

Source: seelatest

बता दें कि हरियाणा बोर्ड की 10वीं की परीक्षा में इस बार हिसार ज़िले के 'टैगोर सीनियर सेकेंड्री स्कूल' की छात्रा ऋषिता ने प्रदेश में पहला स्थान हासिल किया है. ऋषिता ने अंग्रेज़ी, गणित, विज्ञान, सोशल साइंस और एमएचवी में 100 फ़ीसदी अंक लाकर इतिहास रच दिया है. उनको 500 में से 500 नंबर मिले हैं.