हैदराबाद की वेटेनरी डॉक्टर के साथ हुई रेप और हत्या के बाद से पूरे देश में आक्रोश का माहौल था. हर कोई आरोपियों के लिए कड़ी से कड़ी सज़ा की मांग कर रहे थे. आज इससे चौंकाने वाली बड़ी ख़बर सामने आई है. पुलिस ने पीड़िता के चारों आरोपी शिवा, नवीन, केशवुलू और मोहम्मद आरिफ़ को एनकाउंटर में ढेर कर दिया है.

पुलिस के अनुसार दी गई जानकारी से पता चला है कि जब पुलिस उन चारों को उसी फ़्लाईओवर के नीचे लेकर गई और क्राइम सीन की पुनर्रचना करने की कोशिश की, तो चारों भागने लगे. इस पर पुलिस ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए गोलियां चलाई और सारे आरोपी इसी दौरान एनकाउंटर में मारे गए.

Source: ndtv

पीड़िता के पिता पुलिस के इस कदम से बहुत ख़ुश है. उन्होंने कहा,

अब उनकी बेटी की आत्मा को शांति मिलेगी'. उन्होंने तेलंगाना सरकार और पुलिस को बधाई दी.

तो वहीं, एनकाउंटर के बाद तेलंगाना के कानून मंत्री इंद्रकरण रेड्डी ने कहा है,

इन आरोपियों को क़ानूनी प्रक्रिया से पहले भगवान ने सज़ा दे दी'.

एनकाउंटर के बाद से ही पीड़िता के परिवार से लेकर सोशल मीडिया तक ख़ुशी का माहौल है. कई लोग पुलिस की इस प्रतिक्रिया की सराहना कर रहे हैं और धन्यवाद कह रहे हैं. लेकिन कई लोग इस कदम को लेकर चिंतित भी हैं. उनका मानना है कि इस तरह की वारदात से लोगों का कानूनी प्रक्रिया से विश्वास उठ जायेगा. अगर बिना किसी न्यायिक जांच के इस तरह इंसाफ़ देने का क्रम चालू हो जायेगा, तो ये एक सभ्य समाज के लिए ठीक नहीं है.

लोगों की प्रतिक्रिया आप ट्वीट में देख सकते हैं.

तो वहीं, कुछ लोग इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ भी हैं

आपको बता दें, 27 नवंबर को पीड़िता के साथ इन चारों ने दरिंदगी भरा काम किया था.

News पढ़ने के लिए ScopwhoopHindi पर क्लिक करें.