कुछ दिनों पहले एक आईएएस ऑफ़िसर सुर्खियों में थीं. वजह थी उनका अपनी नवजात बेटी के जन्म के एक महीने बाद ही काम पर लौट आना, ताकि वो कोरोना वायरस से लड़ रहे लोगों की मदद कर सकें. इन्होंने तब अपनी मैटेरनिटी लीव्स लेने से इंकार कर दिया था. वो मुश्किल हालातों में लोगों तक हर संभव मदद करना चाहती थीं इसलिए उन्होंने ऐसा किया था.

ये साहसी महिला आईएएस ऑफ़िसर विशाखापटनम में कल हुई लीक हुई ज़हरिली गैस वाले हादसे में पीड़ित लोगों की मदद के दिन रात एक कर ही हैं. इनका नाम है Srijana Gummalla(श्रीजना गुममाला), ये ग्रेटर विशाखापट्टनम म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन में कमिश्नर हैं. उन्होंने इस हादसे का तुरंत संज्ञान लेते हुए एक्शन लेना शुरू कर दिया था.

srijana-gummalla
Source: thenewscrunch

साथ ही फ़ैक्टरी को सील करते हुए उसके मैनेजमेंट के ख़िलाफ़ एफ़आईआर भी दर्ज करवाई थी. श्रीजना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी से शेयर किया जा रहा है. इस वीडियो में वो विशाखापटम गैस लीक त्रासदी में अब तक क्या-क्या कदम उठाए जा चुके हैं उनकी विस्तार से जानकारी देती दिख रही हैं.

ट्विटर पर लोग उनके जज़्बे और साहस को सलाम करते दिख रहे हैं:

ग़ौरतलब है कि कल विशाखापटनम की एक फ़ैक्टरी में तड़के ख़तरनाक Styrene गैस लीक होने लगी थी. इसकी चपेट में आकर 11 लोगों की मौत हो गई थी और हज़ारों लोगों को सांस लेने में तकलीफ़ के चलते अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.