Indian Billionaires Riches To Rags: भारत में अरबपतियों (Indian Billionaires) की कोई कमी नहीं है. हाल ही में फ़ोर्ब्स ने भारत के 10 सबसे अमीर लोगों की लिस्ट जारी की थी. इस लिस्ट में मुकेश अंबानी, गौतम अडानी और शिव नाडर समेत कई अरबपतियों ने जगह बनाई है. आज से कुछ साल पहले तक भारत के सबसे अमीर लोगों की इस लिस्ट में अनिल अंबानी, विजय माल्या, नीरव मोदी जैसे अरबपतियों के नाम शामिल होते थे, लेकिन वक़्त ने ऐसा पैसा पलटा कि आज ये सभी बिज़नेसमैन करोड़पति से सीधे रोडपति हो चुके हैं. कुछ साल पहले तक ये अरबपति हर दिन अरबों रुपये कमाया करते थे, लेकिन आज पाई पाई को मोहताज हैं. जिनके पास थोड़ा बहुत पैसा है भी तो वो क़र्ज़ में डूबा हुआ है. नेट वर्थ से कही ज़्यादा ज्यादा इनकी देनदारियां हैं. (Indian Billionaires)

चलिए आज आपको भारत के कुछ ऐसे ही अरबपतियों (Indian Billionaires) के बारे में जानकारी दे देते हैं जो करोड़पति से रोडपति बन गये हैं-

1- विजय माल्या  

भारत के 17 बैंकों का 9,000 करोड़ रुपये लेकर फ़रार विजय माल्या के नाम से तो हर कोई वाक़िफ़ ही होगा. 'कंग ऑफ़ गुड टाइम्स' के नाम से मशहूर विजय माल्या कुछ साल पहले तक पैसा पानी की तरह बहाया करता था, लेकिन आज पहले वाली ज़िंदगी के लिए तरस रहा है. भारत सरकार माल्या को भगोड़ा घोषित कर चुकी है और भारत में स्थित उसकी सभी सम्पत्तियों को नीलाम कर चुकी है. साल 2022 में विजय माल्या की नेटवर्थ 1.2 बिलियन डॉलर है, जिसमें से उसे 1 बिलियन डॉलर का क़र्ज़ चुकाना है.

Vijay Mallya Businessman
Source: business

ये भी पढ़ें: Richest Indian Billionaire 2022: भारत के 10 सबसे अमीर लोगों की लिस्ट जारी, अंबानी फिर बने नंबर 1

2- अनिल अंबानी  

अनिल अंबानी साल 2008 तक दुनिया के 8वें सबसे समीर शख़्स थे. उस वक़्त उनकी नेट वर्थ 42 बिलयन डॉलर थी. लेकिन किस्मत कब इंसान को अर्श से फ़र्श पर पटक दे कुछ कहा नहीं जा सकता है. अनिल अंबानी के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है. 10 साल पहले तक अनिल अंबानी हर दिन अरबों से नीचे बात नहीं करते थे. लेकिन आज पाई पाई को मोहताज़ हैं. बैंकों का अरबों का कर्ज़ न चुका पाने की वजह से उन्होंने ख़ुद को दिवालिया घोषित कर दिया है. आज अनिल अंबानी की नेटवर्थ शून्य है.  (Indian Billionaires)

Anil Ambni Businessman
Source: newindianexpress

3- सुब्रत रॉय 

सुब्रत रॉय एक समय में भारत के सबसे अमीर शख़्स हुआ करते थे, लेकिन वो आज करोड़पति से सीधे रोडपति बन चुके हैं. सुब्रत रॉय के स्वामित्व वाले सहारा ग्रुप पर निवेशकों के करोड़ों रुपये हड़पने का आरोप है. सहारा ग्रुप निवेशकों के कुछ पैसे लौटा चुकी है, लेकिन अब भी निवेशकों के हज़ारों करोड़ रूपये लौटाने हैं. सुब्रत रॉय 10 साल पहले तक अरबों की सपत्ति के मालिक थे, लेकिन आज उनकी नेटवर्थ घटकर केवल 1.52 करोड़ रुपये रह गई है. (Indian Billionaires)

subrata roy Businessman
Source: deccanherald

4- नीरव मोदी 

गुजरात का हीरा कारोबारी और पीएनबी स्कैम में 2 बिलियन डॉलर का घोटाला करने वाला नीरव मोदी साल 2018 से भारत से फ़रार है. नीरव मोदी फिलहाल मोदी ब्रिटेन के दक्षिण-पश्चिम लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में बंद हैं. साल 2017 में नीरव मोदी की नेटवर्थ 1.8 बिलियन डॉलर (13,713 करोड़ रुपये) के क़रीब थी. नीरव मोदी को 4 बिलियन डॉलर (30,480 करोड़ रुपये) का क़र्ज़ लौटना है. (Indian Billionaires)

Nirav Modi Businessman
Source: telegraphindia

5- मेहुल चौकसी 

पीएनबी स्कैम में 14,000 करोड़ रुपये का घोटाला करने वाले मेहुल चोकसी के पास 2017 से एंटीगुआ की नागरिकता है. वो गीतांजलि ग्रुप का मालिक है, जिसके भारत में 4,000 स्टोर वाली रिटेल ज्वैलरी कंपनी है. साल 2018 तक मेहुल चौकसी की नेटवर्थ 150 मिलियन डॉलर (1,142 करोड़ रुपये) के क़रीब थी. साल 2022 में ये घटकर केवल 3 मिलियन डॉलर (23 करोड़ रुपये) के क़रीब रह गयी है.  

Mehul Choksi Businessman
Source: indiatoday

ये भी पढ़ें: जानिये दुनिया के ये 10 सबसे अमीर लोग प्रति घंटा कितने रुपये कमाते हैं

7- ललित मोदी

साल 2010 में BCCI द्वारा आईपीएल में सट्टेबाजी और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दोषी करार दिये जाने के बाद से ही ललित मोदी भारत से फ़रार है. ललित मोदीइंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के पहले प्रेसिडेंट और कमिश्नर थे. उन्होंने ही साल 2008 में आईपीएल की नींव राखी थी. साल 2010 तक उन्होंने इस टूर्नामेंट का सफलतापूर्वक नेतृत्व किया. वर्तमान में उनकी नेटवर्थ केवल 5.41 मिलियन डॉलर (41 करोड़ रुपये) ही रह गई है.

Lalit Modi Businessman
Source: economictimes

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिसंबर 2021 में कहा था कि जुलाई 2021 तक बैंकों ने विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की संपत्ति की बिक्री के बाद 13,109 करोड़ रुपये की वसूली की थी. इस बीच भारत सरकार ने नये आंकड़े जारी करते हुए बताया कि सरकार अब तक विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी से कुल 18,000 करोड़ रुपये बरामद कर चुकी है.