भारत एक ऐसा देश, जहां अगर ट्रेन टाइम पर आ जाए तो ये ब्रेकिंग न्यूज़ होता है (यात्रियों और उनके रिश्तेदारों के लिए). टाइम से पहले पहुंचने पर तो यात्रियों की ख़ुशी का अंदाज़ा लगा लीजिए!

ऐसे देश की बुलेट ट्रेन सर्विस की कई ख़ास बातों में से एक जानते हैं क्या है? 'सॉरी'...

जी सही पढ़े हैं. प्लैन्स के मुताबिक, देश की बुलेट ट्रेन कुछ मिनट लेट होने पर हर यात्री से निजी तौर पर 'सॉरी' कहेगी.

Source: Live Mint

National High Speed Rail Corporation (NHSRCL) ने भारत के बुलेट ट्रेन में ये सुविधा डालने का प्लैन बनाया है.

National High Speed Rail Corporation (NHSRCL) के Managing Director अचल खरे ने Indian Express को बताया,
'हम अपने क्लाइंट्स से क्षमा मांगेंगे. देरी होने पर हम ट्रेन में पब्लिक अपॉलोजी भी इश्यू करवाएंगे. ये Shinkansen संस्कृति है, जिसमें एक मिनट लेट होने को भी लेट ही समझा जाता है. हम लेट होने के कारण भी कस्टमर्स को बताएंगे.'

जापान की Shinkansen बुलेट ट्रेन नेटवर्क की तर्ज पर ही भारत में साबरमती से बांद्रा कुर्ला कॉम्पेल्क्स के बीच ट्रेन सर्विस शुरू की जाएगी. अचल ने आगे बताया,

'हम जापान की तरह Delay Certificate Issue नहीं करेंगे.'
Shinkansen ने एक बार 20 सेकेंड लेट होने की वजह से Delay Certificate Issue कर दिया था.

Source: Financial Express

जैसे ट्रेन प्लेटफ़ॉर्म पर लोग ऐसे ही घूमते-फिरते हैं बुलेट ट्रेन के प्लेटफ़ॉर्म्स पर इसकी इजाज़त नहीं दी जाएगी. ये भी तय किया गया है कि एक तय वक़्त के बाद ही टिकट वाले यात्रियों को प्लेटफ़ॉर्म पर जाने की इजाज़त मिलेगी.

भारत की बुलेट ट्रेन 320 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से रोज़ 70 चक्कर लगाएगी.

देखते हैं कब तक बुलेट ट्रेन के वीडियोज़ देखने को मिलेंगे क्योंकि बैठने के लिए तो काफ़ी सारा पैसा भी होना चाहिए!