कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में लॉकडाउन हुआ और इसके साथ ही अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर भी रोक लग गई. सरकार ने सभी प्रकार के वीज़ा को निलंबित कर दिया था. बीते छह-सात महीनों के दौरान अर्थव्यवस्था का पहिया पूरी तरह जाम हो गया था, ऐसे में अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लाने के लिए सरकार आहिस्ता-आहिस्ता अनलॉक की प्रक्रिया को आगे बढ़ा रही है. 

Source: oneindia

इसी कड़ी में सरकार ने गुरुवार को सरकार ने सभी ओवरसीज सिटीज़नशिप ऑफ़ इंडिया (OCI) और पर्सन ऑफ़ इंडियन ऑरिज़न (PIO) और दूसरे सभी विदेशी नागरिकों को बड़ी राहत दी है, जो किसी उद्देश्य से भारत आना चाहते हैं. हालांकि, इसमें टूरिस्ट वीज़ा, इलेक्ट्रॉनिक वीज़ा और मेडिकल वीज़ा पर आने के लिए आवेदन करने वालों को बाहर रखा गया है.

गृह मंत्रालय ने अपने जारी बयान में कहा कि क्रमिक छूट के तहत सरकार ने इलेक्ट्रॉनिक वीज़ा, पर्यटक वीज़ा और चिकित्सा वीज़ा को छोड़कर सभी मौजूदा वीज़ा को तत्काल प्रभाव से बहाल करने का फ़ैसला किया है. इसके तहत सभी ओसीआई और पीआईओ कार्ड धारकों तथा अन्य सभी विदेशी नागरिकों को हवाई मार्ग या जल मार्ग से यात्रा कर सकते हैं. 

Source: dispatchpublicist24

सरकार ने कहा कि एक्सपायरी वीज़ा रखने वाले लोग फिर से आवेदन कर सकते हैं और विदेशियों को व्यापार, सम्मेलनों, काम, अध्ययन, अनुसंधान या चिकित्सा कारणों के लिए आवेदन करने की अनुमति होगी.

बता दें, इसमें 'वंदे भारत' मिशन के तहत संचालित उड़ानें, एयर ट्रांसपोर्ट बबल अरेंजमेंट और नागरिक उड्डयन मंत्रालय की अनुमति के अनुसार कोई भी गैर-अनुसूचित वाणिज्यिक उड़ान भी शामिल हैं. हालांकि, सभी यात्रियों को क्वारंटीन संबधी और अन्य दिशा-निर्देशों का सख़्ती से पालन करना होगा.