अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप नवम्बर-2020 में हुए चुनावों में मिली अपनी हार को पचा नहीं पाए हैं. वो लगातार इस चुनाव को फ़र्जी बताकर अपने समर्थकों को भड़काने की कोशिश कर रहे थे. अंतत: ट्रंप के समर्थकों ने अमेरिकी संसद पर कब्जा कर लिया और ट्रंप को राष्ट्रपति बनाए जाने की मांग करने लगे.

capitol hil

इससे प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हुई और 4 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. ट्रंप समर्थकों के बैनर, पोस्टर और झंडों के बीच भारतीय झंडा भी लहराता नज़र आया. कैपिटल हिल में भारत के झंडे की मौजूदगी को देख सबको हैरानी हुई.

वॉशिंगटन डीसी के कैपिटल हिल में हुई हिंसा में भारतीय झंडे के लहराए जाने के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. #CapitolRiots के जरिये ट्विटर पर लोग सवाल पूछ रहे हैं कि आखिर यहां भारतीय झंडा क्यों फहराया जा रहा है.

इसमें बीजेपी सांसद वरुण गांधी से लेकर कॉमेडियन वीरदास तक ने तंज कसा. वरुण ने कहा कि ये एकमात्र वो लड़ाई है जिसमें भारत हिस्सा नहीं लेना चाहेगा. वहीं वीरदास ने इसे फहराने वाले पर मज़े लेते हुए लिखा कि हर भीड़ क्रिकेट मैच नहीं के लिए नहीं होती.

ये झंडा कौन फहरा रहा है इसका पता नहीं चला है. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो इस प्रदर्शन में कुछ भारतीय मूल के अमेरिकी भी शामिल हैं. लेकिन इस तरह के प्रदर्शन में देश के झंडे का इस्तेमाल करना ठीक नहीं. इससे दोनों देशों के रिश्ते ख़राब हो सकते हैं.