डॉक्टर्स के अनुसार Farting एक नॉर्मल प्रक्रिया है. ये हमारे शरीर के स्वस्थ होने की निशानी है. लेकिन लोग अकसर ठुस्की मारने वालों का मज़ाक बनाते हैं या फिर उन्हें देखकर नाक-भौं सिकोड़ते हैं. लेकिन दुनिया में कुछ ऐसे देश भी मौजूद हैं, जो बाकायदा Farting से जुड़ी कई प्रतियोगिताएं आयोजित करते हैं. अब भारत भी अपनी पहली Farting प्रतियोगिता को होस्ट करने जा रहा है.

अपने तरह की इस अनोखी प्रतियोगिता का आयोजन सूरत में किया जाएगा. इसके लिए सोशल मीडिया पर इसका प्रमोशन भी किया जा रहा है. देश की पहली Farting प्रतियोगिता को सूरत के रहने वाले यतिन सांगोई आयोजित कर रहे हैं.

Farting Contest
Source: wordpress

ये कॉम्पिटिशन 22 सितंबर को सूरत के एक क्लब में आयोजित किया जाएगा. इसके लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है. प्रतियोगिता के लिए रजिस्ट्रेशन फ़ीस 100 रुपये तय की गई है.

यतिन सांगोई एक सिंगर हैं, जो एक नेशनल टीवी के एक म्यूज़िक शो में हिस्सा ले चुके हैं. वो अपने पार्टनर मुल सांघवी के साथ मिलकर देश का पहला ‘पादशाह’ तलाशने निकले हैं. यानि कौन सबसे तेज़ Fart कर सकता है, वो भी संगीतमय अंदाज़ में.

Farting Contest

यतिन को ये आइडिया उस वक़्त आया जब वो अपनी फ़ैमिली के साथ एक बार सिनेमा देखने गए थे. तब उन्होंने Fart किया, तो उनके परिवारवालों ने कहा कि अगर Farting का कॉम्पिटिशन होता, तो वो उसमें फ़र्स्ट आते.

उन्होंने रिसर्च की तो पाया कि चीन, यूएस और यूके में फ़ार्टिंग कॉम्पिटिशन होते हैं. इसके बाद उन्होंने ऐसी ही एक प्रतियोगिता को भारत में शुरू करने के बारे में सोचा. उन्होंने सोशल मीडिया पर #FreeTheFart की भी शुरुआत की है.

Farting Contest
Source: thecitizen

आपको जानकर हैरानी होगी कि इस कॉम्पिटिशन में हिस्सा लेने के लिए 40 लोगों ने आवेदन भी कर दिया है. इसे डॉक्टर्स और स्टैंडअप कॉमेडिन का एक पैनल जज करेगा. जीतने वाले को 5000-15000 रुपये इनाम के तौर पर दिए जाएंगे. यही नहीं कंटेस्टेंट्स को Farting करने के नए-नए तरीके और उपाय भी बताए जाने का प्लान है.

Farting Contest
Source: thecitizen

यतिन सांगोई का कहना है कि अगर उनका ये एक्स्पेरिमेंट सफल रहा तो वो इसे अहमदाबाद, मुंबई और कोलकाता जैसे शहरों में भी आयोजित करेंगे.

तो अगर आपके दोस्तों में से भी कोई ऐसा हो जो छोड़ने में आगे हो, तो उसे इस कॉम्पिटिशन के बारे में बता दो. क्या पता वो ये कॉन्टेस्ट जीत कर देश का पहला ‘पादशाह’ बन जाए.