देश के इतिहास में पहली बार एक ऐसा वॉर मेमोरियल बनने वाला है, जिसमें देश के लिए शहीद हुए जानवरों के नाम दर्ज होंगे. इसमें पहला नाम साल 2016 में जम्मू कश्मीर में आतंवदियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुई मानसी (डॉग) का होगा. वो एक Labrador प्रजाति की डॉग थीं, जिसे मरणोपरांत सेना ने सम्मानित किया था.

अपनी तरह के इस अनोखे वॉर मेमोरियल की स्थापना यूपी के मेरठ ज़िले में की जाएगी. यहां पर इंडियन आर्मी का Remount And Veterinary Corps (RVC) कॉलेज है, जिसमें सेना में शामिल होने वाले जानवरों को ट्रेनिंग और उनका पालन किया जाता है.

Indias first war memorial for animals
Source: hindustantimes

इस वॉर मेमोरियल में देश के लिए अलग-अलग युद्ध और एनकाउंटर्स में शहीद होने वाले 300 डॉग्स, उनके 350 हैंडलर्स, घोड़े और कुछ खच्चरों के नाम अंकित किए जाएंगे. इसके साथ ही उनके स्मारकों में सर्विस नंबर की जानकरी भी होगी.

Indias first war memorial for animals
Source: rediff

इसका डिज़ाइन पहले ही तैयार किया जा चुका है. सेना से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि ये स्मारक दिल्ली में बने वॉर मेमोरियल की तर्ज़ पर ही बनाया जाएगा. इसके लिए प्रस्ताव को सेना के उच्च अधिकारियों को भेज दिया गया है. उनकी स्वीकृति मिलते ही इस पर काम शुरू हो जाएगा.

Indias first war memorial for animals
Source: rediff

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय सेना के पास फ़िलहाल 1000 से अधिक डॉग्स, 1500 घोड़े और 5000 खच्चर हैं. इनका इस्तेमाल अगल-अलग ऑपरेशन्स में सेना अपनी सहुलियत के हिसाब से करती है. आर्मी डे के मौके पर कश्मीर और पूर्वोत्तर में हुए आतंकवाद रोधी ऑपरेशन में जान गंवाने वाले 25 डॉग्स को सम्मानित भी किया गया था.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.