दिल्ली हिंसा में अबतक 20 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. भारी पुलिस बल स्थिति को काबू करने के लिए तैनात है. बावजूद इसके सीएए समर्थकों और विरोधियों का उपद्रव थमने का नाम नहीं ले रहा. ताज़ा मामला एक आईबी कॉन्स्टेबल की नाले में लाश मिलने का है.

Source: thewire

चांद बाग पुलिया पर पुलिस ने नाले से आईबी कॉन्स्टेबल अंकित शर्मा का शव बरामद किया है. आरोप है कि जब मंगलवार को अंकित शर्मा ड्यूटी से घर लौट रहे थे, तब ही उपद्रवियों ने उन्हें घेर लिया और पीट-पीट कर उनकी हत्या कर दी. घटना को अंजाम देने के बाद शव को नाले में फेंक दिया गया.

Source: Aaj tak

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जीटीबी अस्पताल भेज दिया है. बतौर पुलिस अंकित की हत्या पथराव में हो सकती है. हालांकि, पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही इस मामले पर पूरी तरह कुछ कहा जा सकता है.

मृतक अंकित शर्मा खजूरी के रहने वाले थे. अंकित ने 2017 में आईबी ज्वॉइन की थी और ड्राइवर के रूप में ट्रेनिंग ले रहे थे. अंकित की मौत की ख़बर आने के बाद परिजनों में मातम पसरा है. उनके पिता रविंदर शर्मा भी आईबी में हेड कॉन्स्टेबल हैं. उन्होंने आरोप लगाया है कि उनके बेटे को गोली भी मारी गई है. उन्होंने मीडिया को बताया कि अंकित ने 2017 में आईबी ज्वॉइन की थी. अंकित की अभी शादी भी नहीं हुई थी. घर वाले उसके लिए लड़की की तलाश कर रहे थे.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी इस घटना पर ट्वीट कर दुख जताया है. ‘जीवन का ऐसा दुखद नुक़सान. दोषियों को बख्शा नहीं जाना चाहिए. 20 लोग पहले ही अपनी ज़िंदगियां गंवा चुके हैं. दिल्ली के लोगों की पीड़ा देखना बहुत दर्दनाक है. प्रार्थना है कि हम इस त्रासदी से जल्द ही उबर जाएं और लोगों और समुदायों को जो नुक़सान हुआ है उसे कम करने के लिए मिलकर काम करें.’

वहीं, दिल्ली हाईकोर्ट ने भी इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि हमनें सुना कि आईबी के ऑफिसर पर भी हमला हुआ है, इसे तुरंत देखने की जरूरत है.