दुनिया को अपनी दरिंदगी से आतंकित करने वाला आतंकी इस्लामी संगठन (आईएस) इस वक़्त खुद डरा हुआ है. कोरोना वायरस ने आईएस आतंकियों में ख़ौफ़ पैदा कर दिया है. आईएस इस कोरोना से इस क़दर आतंकित है कि उसे अपने आतंकियों के लिए एडवाइज़री तक जारी करनी पड़ गई है. एडवाइज़री में संक्रमित व्यक्ति से दूर रहने, हाथ धोकर खाना खाने और यूरोप न जाने की सलाह दी गई है.

आईएसआईएस के न्यूज़लेटर ‘अल नबा' के नवीनतम संस्करण में एडवाइज़री जारी कर एहतियात बरतने के लिए कहा गया है. इसके साथ ही खाने से पहले हाथ धोने, संक्रमित व्यक्ति से दूर रहने और यूरोप नहीं जाने की सलाह भी दी गई है.

ब्रिटेन स्थित आईएस विशेषज्ञ Aymenn Jawad Al-Tamimi द्वारा एक ब्लॉग में प्रकाशित सलाह के अनुवाद के अनुसार, आंतकियों को बीमारी से बचने के लिए ख़ुदा में यक़ीन रखने के लिए कहा गया है.

इस्लामी आतंकी गिरोह ने अपने आतंकियों को छींकते समय अपना मुंह ढंकने और लगातार हाथ साफ़ करते रहने की सलाह दी है. शरीय के ‘अल नबा' का ज़िक्र करते हुए एडवाइज़री में कहा गया है कि जो साथी स्वस्थ हैं वो महामारी वाली ज़मीन में प्रवेश न करें और जो संक्रमित हो चुके हैं, वो अपनी जगह से बाहर न निकलें.

सोशल मीडिया पर ये ख़बर आते ही तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आना शुरू हो गई हैं.

बता दें, ये एडवाइज़री उस वक़्त आई है, जब मिडिल-ईस्ट में कोरोना वायरस तेज़ी से अपने पैर पसार रहा है. सीरिया में फ़िलहाल कोरोना वायरस के किसी मामले की पुष्टि नहीं हुई है, जबकि ईराक में 79 मामले दर्ज हुए हैं. सबसे ज़्यादा बदतर हालात ईरान में हैं, जहां अब तक इस महामारी से 600 लोगों की मौत हो चुकी है.