रात को आसमान में चमकते तारों को देख मन उन्हें क़रीब से जानने को मचल उठता है. अगर आपके साथ भी ऐसा ही है तो आपके लिए ख़ुशख़बरी है. जयपुर के 'कला और संस्कृति विभाग' ने 'एस्ट्रो टूरिज्म' की शुरुआत की है. इसकी मदद से आप रात में गृहों और सितारों को टेलीस्कोप की मदद से क़रीब से देख पाएंगे. 

मतलब ये कि जयपुर वासियों और टूरिस्टों के लिए तारों के शहर यानी अंतरिक्ष को क़रीब से जानने का ये सुनहरा अवसर है. 

universe
Source: mashable

जयपुर के 'कला और संस्कृति विभाग' ने इसे 'Night Sky Tourism' का नाम दिया है. इससे जयपुर के एस्ट्रो टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा. इसकी शुरुआत हो चुकी है. चलिए जानते हैं वो कौन से स्पॉट हैं जहां से आप सितारों की दुनिया को देख सकते हैं.

जंतर मंतर

Source: wikipedia

महाराजा सवाई जयसिंह द्वितीय द्वारा बनाई गई इस वेधशाला में 16 खगोलीय उपकरण लगे हैं. 11 फ़रवरी को आप यहां से शनि, बृहस्पति, शुक्र और बुध जैसे ग्रहों को देख पाएंगे. इसके लिए इंतज़ाम किए जा रहे हैं.

आमेर का क़िला

Amer Fort
Source: britannica

जयपुर के फ़ेमस टूरिस्ट स्पॉट 'आमेर फ़ोर्ट' को महाराजा मान सिंह प्रथम ने बनवाया था. यहां आप 17 मई को बुध ग्रह और 26 मई को 2021 के सबसे बड़े चांद के दीदर कर पाएंगे.

अल्बर्ट हॉल

albert hall jaipur
Source: blog

अल्बर्ट हॉल राजस्थान का सबसे पुराना संग्रहालय है. यहां अलग-अलग काल के बर्तन, हथियार, वाद्य यंत्र आदि रखे हुए हैं. यहां पर आप 5 मार्च को बृहस्पति और बुध के संयोजन को देख पाएंगे. इसके अलावा शुक्र ग्रह के दर्शन 5 जुलाई को करवाए जाएंगे.

रात्रिकालीन पर्यटन के लिए सभी जगहों पर टेलीस्कोप लगाए गए हैं. अब पर्यटक इन जगहों पर शाम 6.30 से लेकर रात के 9 बजे तक एस्ट्रो टूरिज्म का लुत्फ़ उठा सकते हैं.