देश की प्रतिष्ठित और दिल्ली स्थित जवाहर लाल यूनिवर्सिटी में छात्रों पर हमला कर उनके साथ मारपीट की घटना हुई है. इस मारपीट में 20 छात्र घायल हुए हैं. इस हमले में जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष के सिर पर गंभीर चोट आई है. हिन्दुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक़, आईशी घोष ने बताया कि कुछ नक़ाबपोश गुंडों ने उन पर हमला किया जिसमें वो गंभीर रूप से चोटिल हो गई हैं. सभी घायल छात्रों को AIIMS अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं 2 छात्रों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

JNU Attack
Source: ndtv

NDTV की रिपोर्ट के अनुसार, उस वक़्त वहां मौजूद लोगों ने बताया कि शाम करीब 6:30 बजे करीब 50 गुंडे जेएनयू कैंपस में घुस आए और छात्रों पर हमला करना शुरू कर दिया. छात्रों के साथ-साथ इन अराजकतत्वों ने कैंपस में मौजूद वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया और हॉस्टल में भी तोड़फोड़ की.

JNU Attack
Source: business-standard

इस घटना पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा,

जेएनयू में हुई हिंसा को जानकर मैं बहुत हैरान हूं. छात्रों ने बेरहमी से हमला किया. पुलिस को तुरंत हिंसा रोकनी चाहिए और शांति बहाल करनी चाहिए. अगर हमारे छात्र परिसर के अंदर सुरक्षित नहीं रहेंगे तो देश कैसे आगे बढ़ेगा?

वहीं, JNU में हुई इस हिंसा पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने रजिस्ट्रार से घटना की तत्काल रिपोर्ट मांगी है.

NDTV की ख़बर के मुताबिक़, जेएनयूटीए के सचिव सुरजीत मजूमदार ने कहा, 'हम विश्वविद्यालय प्रशासन और कुलपति को इस हालात के लिए जिम्मेदार मानते हैं. आज हॉस्टल के अंदर कोई भी सुरक्षित नहीं है. कई शिक्षक भी गंभीर रूप से घायल हैं. मैं बस इतना कहना चाहता हूं कि जिस तरह से कुलपित इस विश्वविद्यालय को चला रहे हैं उससे हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं. यूनिवर्सिटी में लोकतांत्रिक प्रक्रिया दिन पर दिन खत्म होती जा रही है.

एक शिक्षक ने बताया कि हिंसा के दौरान मैंने सिक्योरिटी और पुलिस को इसकी सूचना दी, लेकिन 2 घंटे तक पुलिस वहां नहीं पहुंची और नक़ाबपोशों ने शिक्षकों के घरों पर भी हमला किया.

JNU Attack
Source: thenewsminute

घायलों से मिलने प्रियंका गांधी वाड्रा AIIMS पहुंची.

Source: ndtv

इस हिंसा पर किसने क्या कहा आप इन ट्वीट्स में पढ़ सकते हैं: