अमेरिकी कंपनी एपल के लिए विनिर्माण करने वाली कंपनी विस्ट्रॉन का कर्नाटक के कोलार जिले में एक संयत्र है. शनिवार को यहां भयंकर उपद्रव देखने को मिला है. कुछ कर्मचारियों ने ‘वेतन न मिलने पर’ फ़ैक्ट्री में जमकर तोड़फ़ोड़ की है. कंपनी के मुताबिक, इस हिंसा के कारण उसे 440 करोड़ का नुक़सान हुआ है, क्योंकि हज़ारों iPhone लूट लिए गए. 

Source: indiatimes

दरअसल, बकाए वेतन को लेकर यहां कर्मचारियों ने जमकर पत्थरबाज़ी और तोड़फ़ोड़ की है. इस दौरान कर्मचारियों ने इमारत, वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया, आगज़नी की और मशीनों तथा कंप्यूटरों समेत महंगे उपकरणों को तोड़ा. कर्मचारियों का आरोप है कि उन्हें पिछले चार महीनों से सैलरी नहीं मिली है.

Source: indiatimes

बतौर पुलिस, कर्मचारियों ने फ़ैक्ट्री में घुसकर फ़र्नीचर वगैरह को नुक़सान पहुंचाया है. कोलार के एसपी कार्तिक रेड्डी ने India Today को बताया, ‘कर्मचारियों ने सुबह 6:30 बजे के आसपास फ़ैक्ट्री में तोड़फोड़ की. बहुत सारी संपत्ति नष्ट हो गई. हम अभी इस मामले की जांच कर रहे हैं.’ फ़िलहाल, पुलिस ने अब तक 156 लोगों को गिरफ़्तार किया है.

Source: youtube

बता दें, कर्नाटक सरकार ने भी इस घटना की निंदा की है. राज्य के उप मुख्यमंत्री सी. एन. अश्वथ ने कहा है कि, अपराधियों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी. वहीं, कर्नाटक के श्रम मंत्री शिवराम हेब्बार ने कहा कि, कंपनी को जो नुकसान हुआ, वो अस्वीकार्य है.