लोग आपदा को अवसर में बदलने का मौक़ा नहीं छोड़ते हैं, बशर्ते आपदा ख़ुद उन पर न हो. जो लोग ऐसा करते हैं, उन्हें आम दुनिया में मौकापरस्त कहा जाता है. हालांकि, एडवरटाइज़िंग की दुनिया में इसे मास्टरस्टोक की तरह लिया जाता है.   

Source: youtube

Kent RO Systems, बहुत ही फ़ेमस कंपनी है. शायद ही कोई ऐसा हो, जिसने इसका नाम नहीं सुना हो. घर-घर में कंपनी की ब्रांड एंबेस्डर हेमा मालिनी आपको इस कंपनी का पानी पीती मिल जाएंगी. बॉलिवुड की ड्रीम गर्ल का एक ही सवाल होता है ‘क्या आपका प्यूरीफ़ायर भी घुली हुई अशुद्धियां निकालता है?’ 130 करोड़ देशवासी भी गंगा क़सम खाकर न में सिर हिला देते हैं.  

खैर, अब ये कंपनी सिर्फ़ पानी से अशुद्धियां नहीं निकाल रही है, बल्क़ि दूसरों के घरों में खाना बनाकर ख़ुद के लिए दो वक़्त की रोटी कमाने वाली मेड को भी निकालने की व्यवस्था कर रही है. कंपनी ने आटा गूंथने वाली डिवाइस का विज्ञापन निकाला है. इसमें लोगों से कहा गया कि वो अपनी मेड को आटा गूंधने न दें क्योंकि हो सकता है कि उनके हाथ संक्रमित हों. ये एड कुछ यूं हैं.  

‘क्या आप अपने मेड को हाथ से आटा गूंथने की अनुमति दे रहे हैं? हाथों के बजाय आटा गूंधने के लिए Kent Atta & Bread Maker चुनें. ऑटोमेशन को इस बार स्वच्छता का ख़्याल रखने दें! हेल्थ और प्योरिटी से समझौता न करें.’  

इस विज्ञापन के सर्कुलेट होते ही सोशल मीडिया पर बवाल कट गया है. जिनको Kent RO का शुद्ध पानी नहीं मिल रहा है, वो भी नलके का पानी पी-पीकर गरिया रहे हैं. लोगों ने कंपनी पर कमज़ोर वर्गों के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया, उनका कहना है कि इस तरह का एड ‘सेक्सिस्ट’ और ‘क्लासिस्ट’ है. ऐसे में लोग कंपनी का बहिष्कार करने की भी बात कर रहे हैं.  

सोशल मीडिया पर लोगों का ग़ुस्सा देखकर कंपनी ने अपना विज्ञापन हटा लिया है, लेकिन इंस्टाग्राम पर पोस्ट हुए इस एड के स्क्रीनशॉट हर जगह वायरल हो रहे हैं. कंपनी की ओर से ट्विटर पर माफ़ी भी मांगी गई है. कंपनी के चेयरमैन महेश गुप्ता ने कहा, ‘Kent Atta & Bread Maker का हमारा हालिया विज्ञापन सोशल मीडिया पर अनजाने में, बुरी तरह से कम्युनिकेट किया गया था और ग़लत था. इसलिए, इसे तुरंत वापस ले लिया गया. हमें इस घटना के लिए बेहद ख़ेद है और सभी से माफ़ी मांगना चाहते हैं, खासकर उन लोगों से जिनकी भावनाएं आहत हुई हैं.’  

लोग कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. ऐसे में स्टेटमेंट में आगे कहा गया, ‘विज्ञापन Kent की मान्यताओं और पेशेवर मानकों के विपरीत है. हम जांच करेंगे कि हमारे विज्ञापन मानकों से कैसे समझौता किया गया और हम आगे सुधारात्मक और निवारक कार्रवाई करेंगे ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं दोबारा न हों.’  

हम तो कंपनी को यही सलाह देंगे कि एक प्यूरीफ़ायर अपने विज्ञापनों पर भी लगा लीजिए, काहे कि इत्ती अशुद्धियां आपकी कंपनी को बहुत ज़्यादा ही संक्रमित कर देंगी.