साईकिल से लखनऊ से छत्तीसगढ़ के ज़िला बेमेतरा को निकले मज़दूर दंपत्ति की सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई है.


Indian Express की रिपोर्ट के अनुसार, बीते गुरुवार को इस दंपत्ति के 2 बच्चे हादसे में बच गये.

बीते बुधवार को पेशे से कन्सट्रक्शन वर्कर, 45 वर्षीय कृष्णा साहु और 38 वर्षीय उनकी पत्नी, प्रमिला साहु अपने दो बच्चों चांदनी और निखिल को लेकर लखनऊ के सिकंदरा गांव से निकले. साहु ने 25 किलोमीटर की ही यात्रा की होगी कि रात के 2:30 बजे एक गाड़ी ने उन्हें टक्कर मार दी. गाड़ी की पहचान करना अभी बाकी है.


प्रमिला की मौके पर ही मौत हो गई जबकि कृष्णा को किंग जॉर्ड मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती करवाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया.

बच्चों को मामूली चोटें आईं और अभी उन्हें कृष्णा के भाई राम कुमार के पास भेज दिया गया है.


राम कुमार ने Indian Express से बात-चीत में बताया कि उनके भाई ने निकलने से पहले किसी को नहीं बताया था.

उन्हें अपने बच्चों को खाना खिलाने में दिक्कत हो रही थी क्योंकि कन्सट्रक्शन का काम रुक गया था. मेरी उनसे हफ़्तेभर पहले बात हुई थी, उन्होंने तब बताया था कि पैसे नहीं है. 

                    - राम कुमार

सुशांत गोल्फ़ सिटी के एसएचओ, अजय सिंह ने जानकारी दी कि पोस्ट-मोर्टम के बाद पार्थिव शरीरों को परिवारवालों को सौंप दिया गया है.


पुलिस ने शिकायत दर्ज कर ली है.