एक गहरा कुंआ, एक डरा हुआ तेंदुआ और सैकड़ों उत्साहित गांव वाले. ये नज़ारा था पुणे के Fakte गांव का. रविवार की सुबह अनुमानत: चार साल का तेंदुआ शिकार के पीछे भागता हुआ कुएं में गिर गया.

सबसे पहले उसे गांव के किसान रामदास भालेराव ने देखा, तेंदुआ बीस फ़ीट गहरे कुएं से निकलने की कोशिश कर रहा था. पानी गहरा था और एक जानवर के लिए ऊपर आने के कोई रास्ता नहीं था. देखते ही देखते सैकड़ों गांव वाल इकट्ठा हो गए.

घटनास्थल पर मौजूद वनविभाग के कर्मचारियों ने Manekdoh के Leopard Rescue Centre में सूचना पहुंचा दी. तब तक एक लकड़ी के फट्टे को रस्सी से बांध कर नीचे कर दिया गया ताकि तेंदुआ उसपर बैठ कर आराम कर सके. जब तेंदुआ थोड़ा शांत हुआ तब उसको ऊपर लाने के लिए पिंजरा नीचे किया गया, जिसके भीतर वो तुरंत चला गया, जिसे खींच कर सूखी ज़मीन पर लाया गया.

बाद में तेंदुए को इलाज़ के लिए Leopard Rescue Centre ले जाया गया. TOI के रिपोर्ट के अनुसार पकड़ा गया तेंदुआ स्वस्थ था, उसे जल्द ही जंगल में छोड़ दिया जाएगा.

इस पूरी घटना को आप कैमरे की नज़र से यहां देख सकते हैं.