अफ़गानिस्तान(Afghanistan) में इन दिनों हालात बहुत ख़राब हैं. तालिबान का कब्ज़ा होने के बाद वहां के आम लोगों का जीना मुहाल हो गया है. इससे कई देशों से उनके संबंध भी ख़राब हुए हैं. अफ़गानिस्तान प्राकृति संपदाओं से संपन्न देश है. यहां से बहुत ही सी चीज़ें विदेशों में एक्सपोर्ट की जाती हैं. 

Twitter

भारत(India) से भी वहां से बहुत सा ज़रूरी सामान इंपोर्ट-एक्सपोर्ट होता है. पिछले वित्त-वर्ष  में वहां से 509 मिलियन डॉलर का सामान भारत आया था. ताज़ा हालात को देखते हुए भारत और अफ़गानिस्तान के साथ हमारे व्यापार(Trade) पर भी असर पड़ा है. आइए जानते हैं उन चीज़ों के बारे में जो भारत अब तक वहां से इंपोर्ट करता था.

अफ़गानिस्तान किन-किन चीज़ों का आयात-निर्यात करता है

wikimedia

अफ़गानिस्तान के पारंपरिक निर्यात में ड्राई फ़्रूट्स, कालीन, भेड़, ऊन आदि शामिल है. आयात की बात करें तो वो दूसरे देशों से पेट्रोल, चीनी, वस्त्र, वनस्पति तेल, चाय, वाहन आदि आयात करता है. 

अफ़गानिस्तान के मुख्य निर्यातक देश

cdnparenting

अफ़गानिस्तान के मुख्य निर्यातक हैं पाकिस्तान, भारत, रूस, ईरान, तुर्की जैसे देश हैं. 48 फ़ीसदी हिस्से के साथ इसमें पहले स्थान पर पाकिस्तान और 19 प्रतिशत हिस्सा के साथ भारत दूसरे स्थान पर मौजूद है. निर्यात इस देश की जीडीपी में 20 फ़ीसदी का योगदान देता है. 

भारत और अफ़गानिस्तान द्विपक्षीय व्यापार

Chanakya

भारत और अफ़गानिस्तान के बीच 2020-21 में 1.4 बिलियन डॉलर का द्विपक्षीय व्यापार हुआ था. 2019-20 में ये 1.52 बिलियन डॉलर था. अफ़गानिस्तान भारत को किशमिश, अखरोट, बादाम, अंजीर, पाइन नट, पिस्ता और सूखे खुबानी निर्यात करता है. यही नहीं वहां से भारत ताज़े फल जैसे खुबानी, सेब, अनार, चेरी, तरबूज, हींग, केसर, जीरा और औषधीय जड़ी बूटियां भी आयात करता है.

Snapdeal

फ़िलहाल तालिबान ने भारत के साथ होने वाले सभी आयात-निर्यात पर रोक लगा दी है.