सिंघू बॉर्डर विरोध साइट पर शुक्रवार दोपहर हिंसा भड़क गई. स्थानीय निवासी होने का दावा करने वाले कुछ लोग विरोध स्थल पर पहुंचे और किसानों से विरोध स्थल खाली करने की मांग करने लगे.  

Source: Twitter

बहसबाज़ी ने हिंसक रूप ले लिया और दोनों गुटों में भिड़ंत हो गई. News18 की रिपोर्ट के अनुसार फ़ार्म यूनियन वॉलंटियर्स ने बीच-बचाव किया और हालात को बेकाबू होने से रोका. The Tribune के रिपोर्ट् के अनुसार दिल्ली पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े. 

Source: Twitter

लगभग 300 आदमियों के इस गुट में लोगों ने तिरंगा झंडा लिया हुआ था और किसानों के आंदोलन के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी कर रहे थे. इन लोगों का कहना था कि किसानों के वहां होने से स्थानीय लोगों को परेशानी हो रही है.  

एक आदमी (जिसकी पहचान नहीं हो पाई है) ने तलवार ने दिल्ली के अलीपुर थाना एसएचओ, प्रदीप पालिवाल पर वार किया और एसएचओ ज़ख़्मी हो गए. 

Source: Twitter

Times of India की रिपोर्ट के अनुसार, सिंघू बॉर्डर पर किसी को एंट्री नहीं दी जा रही है. मीडिया से जुड़े लोगों को भी प्रोटेस्ट साइट पर एंट्री नहीं मिल रही है.

ANI की रिपोर्ट के अनुसार टिकरी बॉर्डर पर भी कुछ लोग जमा हो गये और प्रोटेस्ट साइट खाली करने की मांग करने लगे.   

ट्विटर पर इस घटना से जुड़े वीडियोज़ और तस्वीरें-