क्या आप सुबह से ही रात के खाने के बारे में सोचना शुरू कर देते हैं? क्या आप दिन के किसी भी समय खाने को न नहीं बोल सकते? क्या खाना देख आपकी आंखें क्यूट से पप्पी की तरह चमक उठती है? 

यदि इन सब प्रश्नों का उत्तर हां है तो मुबारक़ हो आप सर्टिफ़ाइड Foodie हैं.  

फ़ूडी होना आसान नहीं है. एक बार ज़ुबान पर लज़ीज़ खाने का चस्का चढ़ जाए तो उतारना बहुत मुश्किल होता है जनाब. लोग खाने के लिए क्या-क्या नहीं करते हैं और कहां-कहां नहीं जाते हैं. अब आप कर्नाटक की इस बिरयानी की दुकान के बाहर ही देख लीजिए. लोगों में बिरयानी की दीवानगी इस कदर है की वो उसे पाने के लिए 1.5 किलोमीटर लंबी लाइन में भी खड़े होने से गुरेज नहीं कर रहे. और हम यहां सोचते थे कि ऐसी लंबी कतारें सिर्फ़ शराब की दुकानों के आगे ही होती है. (अरे, म्हारे फ़ूडी इन बेवड़ों से कम हैं के!) 

यह दुकान कर्नाटक के होस्कोट में है. दुकान का नाम 'आनंद दम बिरयानी' है.  

घंटों से लाइन में लगे एक ग्राहक का कहना है, 'मैं यहां सुबह 4 बजे आया था. 6:30 बजे मुझे मेरा ऑर्डर मिला क्योंकि बिरयानी के लिए करीब 1.5 किलोमीटर लंबी लाइन लगी थी. खाना बेहद लज़ीज़ है और यह इंतज़ार के लायक है.' 

न्यूज़ एजेंसी ANI से रेस्टोरेंट के मालिक का कहना है, 'हमने लगभग 22 साल पहले इस स्टॉल को खोला था. हमारी बिरयानी में किसी भी तरह का संरक्षक (Preservatives) नहीं डाला जाता है. हम एक दिन में एक हज़ार किलोग्राम से अधिक बिरयानी परोसते हैं.' 

खाने के लिए ऐसी दीवानगी !