रजनीकांत को कौन नहीं जानता. इनके फ़ैन्स इन्हें भगवान बुलाते हैं. बॉलीवुड के सुपर स्टार अक्षय कुमार तो इन्हें फ़िल्म इंडस्ट्री की पूरी गैलेक्सी कहते हैं. अब जिस शख़्स की लोग इतनी तारीफ़ करते हैं, तो उस हस्ती के चर्चे दुनियाभर में होना तय है.

Filmy.Today

भारत में मलेशिया के प्रधानमंत्री आने वाले हैं. लेकिन उनकी एक मांग है कि वो भारत के प्रधानमंत्री से मिलने से पहले देश के सबसे बड़े स्टार रजनीकांत से मिलना चाहते हैं. उन्होंने ख़ास अनुरोध किया है कि वो पहले चेन्नई जाएंगे, फिर वहां से दिल्ली के लिए रवाना होंगे.

ABC

भारत सरकार ने इस अनुरोध को माना है और रजनीकांत से अनुरोध किया है कि वो अपने व्यस्त समय से थोड़ा वक़्त निकाल कर रखें. हालांकि, अभी तक रजनीकांत ने इस बारे में कुछ नहीं कहा है. भारत सरकार को उनके जवाब का इंतज़ार है.

सिर्फ़ भारत में ही नहीं, मलेशिया में भी रजनीकांत के बड़ी संख्या में फ़ैन्स रहते हैं. फ़िल्म ‘काबाली’ के बाद से रजनीकांत का जादू वहां के लोगों के सिर चढ़ कर बोल रहा है. मलेशिया ट्यूरिज़म ने रजनीकांत को अपना ब्रैंड एम्बेसडर बनाने के लिए भी प्रस्ताव दिया है.

Quint

लेकिन इन दोनों ही मामलों में अभी तक रजनी सर का कोई जवाब नहीं आया है. हमें ध्यान रखना चाहिए कि आख़िरी फ़ैसला रजनी सर के ही हाथ में है. Mind IT…