कहते हैं वक़्त से पहले, क़िस्मत से ज़्यादा कुछ नहीं मिलता, मौत भी नहीं. कुछ ऐसी ही घटना घटी है तेलंगाना के एक शख़्स के साथ. तेलंगाना के वारंगल ज़िले में सुनील चौहान ट्रेन से गिर गया और उसका पेट फट गया.


रिपोर्ट के मुताबिक उसकी आंत बाहर आ गई. ये शख़्स 11 किलोमीटर तक अपनी आंत पकड़े रेलवे ट्रैक पर चलता रहा. एक रेलवे अधिकारी ने उसे देखा और ऐम्बुलेंस को फ़ोन किया.

Source: The News Minute

सुनील चौहान अभी ख़तरे से बाहर है और एमजीएम अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है.


उत्तर प्रदेश के हुसैनाबाद का सुनील संघमित्रा एक्सप्रेस से नेल्लोर जा रहा था और रास्ते में ट्रेन से गिर गया. उसका भाई प्रवीण भी उसके साथ ट्रेन में ही था, दोनों नौकरी की तलाश में नेल्लोर जा रहे थे.

Source: Times of India

सोमवार सवेरे जब ट्रेन उप्पल स्टेशन के पास थी तब सोनू बाथरूम जाने के लिए उठा और दरवाज़े के पास खड़ा हो गया पर उसका पैर फ़िसल गया.


गिरने के बाद सोनू के पेट पर गहरा ज़ख़्म लगा पर उसने हिम्मत नहीं हारी और ज़ख़्म के आस-पास अपनी शर्ट बांधी. 11 किलोमीटर चलकर वो हसनपार्थी स्टेशन पहुंचा जहां स्टेशन मास्टर ने ऐम्बुलेंस बुलाकर उसे एडमिट करवाया.