शोएब आफ़ताब... कुछ समय पहले आप सभी ने ये नाम ज़रूर सुना होगा. शोएब आफ़ताब ने NEET की परीक्षा टॉप की थी. इस दौरान उन्होंने 720 में से 720 अंक हासिल किए थे. शोएब के अलावा यूपी की आकांक्षा सिंह को भी 720 नंबर मिले. 

Source: indianexpress

ज़ाहिर सी बात है हर माता-पिता की तरह शोएब के टॉप करने पर उनके माता-पिता भी बेहद ख़ुश हैं, लेकिन शोएब की इस सफ़लता से कुछ और लोग भी बेहद ख़ुश हैं. हम राजस्थान के 'कोटा' शहर के उन कोचिंग इंस्टीट्यूट की बात कर रहे हैं, जो इन दिनों सोएब की सफ़लता का ख़ूब फ़ायदा उठा रहे हैं.   

Source: indianexpress

उड़ीसा के राउरकेला के रहने वाले शोएब आफ़ताब ने राजस्थान के 'कोटा' में रहकर NEET की तैयारी की थी. इस दौरान उन्होंने 'एलेन इंस्टिट्यूट' से पढ़ाई की थी, लेकिन शोएब के टॉप करने के बाद कई संस्थानों ने पोस्टर्स शेयर करते हुए दावा किया कि शोएब ने उनके संस्थान से पढ़ाई की है.

Source: indianexpress

'ग्रेविटी ओरिएंटिंग इंटेलिजेंस' नाम के कोचिंग संस्थान ने इस पोस्टर को शेयर करते हुए दावा किया है कि, शोएब ने उनके यहां से पढ़ाई की थी. शोएब 'एलेन इंस्टिट्यूट' के छात्र थे, लेकिन लॉकडाउन के दौरान के उन्होंने डिस्टेंस लर्निंग के ज़रिए 'ग्रेविटी इंस्टिट्यूट' से तैयारी की थी.

Source: thelallantop

ये कोटा के 'एलेन इंस्टिट्यूट' का पोस्टर है. Allen है...तो मुमकिन है. इस पोस्टर में बताया गया है कि पिछले दो साल से शोएब उनकी क्लासरूम प्रोग्राम का हिस्सा रहे हैं. वो केवल हमारे संस्थान के ही छात्र रहे हैं. 

संस्थान ने एक वीडियो भी जारी किया है, जिसमें शोएब कह रहे हैं, 'मैं 2 साल पहले 'एलेन' आया था. मैं 10वीं की बोर्ड परीक्षा देने के बाद से ही मैं कोटा में अपनी मां और छोटी बहन के साथ पीजी में रहता था. ऐलन के टीचर्स की गाइडेंस से ही मैंने ये सफ़लता प्राप्त की है. 

Source: indianexpress

इसी तरह 'आकाश इंस्टिट्यूट' ने अपने ऑफ़िशियल फ़ेसबुक पेज पर एक पोस्ट शेयर की है. इस दौरान वीडियो में शोएब कह रहे हैं, 'मैं आकाश DLP का छात्र हूं. इनका स्टडी मैटेरियल कमाल का था. टेस्ट पेपर भी बहुत शानदार थे. उसमें काफ़ी सवाल होते थे. कुछ सवाल तो एनसीईआरटी के बाहर से भी थे. इन सब ने मेरी प्रैक्टिस में काफ़ी मदद की. आकाश के फैकेल्टी ने मेरी काफी मदद की है. धन्यवाद आकाश इंस्टिट्यूट. 

Source: thelallantop

राजस्थान के कोटा में Aakash, Allen, Gravity, Pathfinder, Sri Chaitanya और ETOOS India जैसे न जाने कितने कोचिंग संस्थान हैं, जो अपने विज्ञापनों में शोएब आफ़ताब के नाम का इस्तेमाल कर लोगों को गुमराह करने का काम कर रहे हैं. शोएब आफ़ताब और आकांक्षा सिंह ही नहीं कई अन्य टॉपर छात्रों के साथ भी कोचिंग संस्थान इसी तरह की धोखाधड़ी कर रहे हैं. 

Source: indianexpress

इस दौरान सभी कोचिंग संस्थानों ने विभिन्न लर्निंग प्रोग्राम का हवाला देते हुए ये बताया है कि, शोएब उनके इंस्टीट्यूट के ही छात्र हैं. अब कौन सच कह रहा है और कौन झूठ, लेकिन इससे छात्रों का काफ़ी नुक़सान हो रहा है.