लॉकडाउन में पर्यटन स्थल वीरान हो गए थे तो उनका साफ़-सुथरा होना लाज़मी था. लेकिन जैसे ही लॉकडाउन ख़त्म हुआ फिर से पर्यटन स्थल पर कुड़ा-कचरा इकट्ठा होने लगा. चेन्नई का वर्ल्ड फ़ेमस मरीना Beach भी इन्हीं से एक था. ये भी काफ़ी गंदी होने लगा था. ऐसे में ठेला लगाने वाले लोगों ने इसे साफ़ करने का ज़िम्मा उठा लिया और अब इसकी दशा काफ़ी सुधर गई है. 

वैसे तो आज से क़रीब 6 साल पहले मरीना Beach पर वेंडर्स ने इस पहल को शुरू किया था, लेकिन पिछले 3 साल से इन्होंने ये काम करना बंद कर दिया था. लेकिन लॉकडाउन के बाद फिर से मरीना Beach गंदा रहने लगा.

Marina vendors
Source: thenewsminute

इसलिए यहां पर सामान बेचने वाले लोगों ने इस काम को फिर से करना शुरू कर दिया. बीते सोमवार को भी क़रीब 50 वेंडर्स इकट्ठे हुए और पूरे बीच को साफ़ किया. हालांकि, नगर निगम इसकी सफ़ाई करता है, लेकिन लोगों की भीड़ के कारण कुछ कोने रह जाते हैं.

ये भी पढ़ें: सफ़ाई कितनी प्यारी चीज़ होती है, ये आपको सफ़ाई से पहले और बाद की इन 28 तस्वीरों से पता लग जाएगा

Marina
Source: newstracklive

वेंडर्स ने एक ग्रूप भी बना रखा है जिसका नाम नेशनल एसोसिएशन ऑफ़ स्ट्रीट वेंडर्स ऑफ़ इंडिया है. इसके अध्यक्ष सेकरन कहते हैं- '6 साल पहले जब वेंडर्स पर बीच को गंदा करने का इल्ज़ाम लगा था तब सभी ने हर सोमवार को इसे साफ़ करना शुरू कर दिया था.  जब मैं नहीं आता था तो मेरे पिता आते थे बीच साफ़ करने. अब वो नहीं है. आज फिर से हम पर ये तोहमत मढ़नी शुरू हुई तो हमने फिर से इस काम को करना शुरू कर दिया है.' 

Marina vendors cleaning
Source: newindianexpress

एक दूसरे विक्रेता ने बताया कि यहां कुछ लोग पिछले 10-15 साल से धंधा कर रहे हैं. वे सब भी दूसरे लोगों की तरह इस बीच को साफ़-सुथरा देखना चाहते हैं. ये सफ़ाई अभियान पिछले तीन सप्ताह से जारी है. लोगों को बीच साफ़ करता देख दूसरे लोग भी इसे साफ़ करने और बीच को गंदा न करने के लिए प्रेरित होते हैं.

मरीना बीच के इन वेंडर्स के लिए तालियां तो बनती हैं.