दक्षिण भारत में लगातार हो रही बारिश ने तबाही मचा रखी है. बारिश से नदी और नाले उफान पर हैं. अकेले केरल में पिछले 4 दिनों में 40 से ज़्यादा लोगों की जान जा चुकी है.

गुरूवार शाम को केरल के वायनाड में मेप्पदी क्षेत्र के पास का पुथुमाला गांव में भारी भूस्खलन की सूचना मिली है. मंदिर, मस्जिद, डाकघर और प्लांटेशन कंपनी की कैंटीन के साथ लगभग 100 एकड़ चाय की ज़मीन सब बह गई.

kerala floods
Source: newindianexpress

"पुथुमाला गांव अब नहीं रहा", भूस्खलन में बचने वाले एक गांव वाले ने कहा. शुक्रवार को मलबे से छह शव बरामद किए गए थे.

अधिकारियों का कहना है कि कन्नूर से आई सेना की टीम सहित 80 सदस्यीय राहत दल के नेतृत्व में तलाशी अभियान शुक्रवार सुबह से शुरू हो गया है. बचाव अभियान के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के जवान भी पुथुमाला पहुंच गए हैं. अभी तक क्षेत्र से 200 निवासियों को बचाया जा चुका है.

floods
Source: businesstoday
rescue operation
Source: indiatoday

गुरुवार को वायनाड से सांसद और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर वहां के लोगों को मदद का आश्वासन दिलाया.

लगातार हो रही भारी बारिश के कारण बचाव अभियान में रुकावट आ रही है.