पिछले कुछ दिनों में नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर उत्तर प्रदेश के कई ज़िलों में हिंसक प्रदर्शन हुए हैं. इसी बीच यूपी पुलिस के एक वीडियो ने पुलिस को ही सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है. वायरल हो रहे इस विवादित वीडियो में यूपी पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी मुस्लिम ग्रूप को पाकिस्तान चले जाने की बात कहते दिखाई दे रहे हैं.

Source: zawya

ये वीडियो मेरठ का है. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में एसपी अखिलेश नारायण सिंह एक मुस्लिम समूह का करियर तबाह करने की धमकी देते दिख रहे हैं. वो आगे कहते हैं कि ‘ये जो पीली और काली पट्टी लगाकर आए हैं, इनसे कह दो पाकिस्तान चले जाएं, खाओगे यहां का और गाओगे कहीं और का.’

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, ये वीडियो 20 दिसंबर का है, जब मेरठ में नागरिकता कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे थे. वहां पर लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति को संभालने के लिए एसपी सिटी ख़ुद मौजूद थे.

इस बारे में बात करते हुए अखिलेश नारायण सिंह ने कहा- 'जो कुछ भी वीडियो में सुना गया है वो प्रदर्शनकारियों के उस ग्रुप को जवाब था, जब वे सभी पाकिस्तान के समर्थन में ‘पाकिस्तान ज़िंदाबाद’ के नारे लगा रहे थे.'

उन्होंने आगे कहा कि- 'मैंने जवाबी प्रतिक्रिया देते हुए ऐसा कहा था. मैं ऐसा मानता हूं कि जो अपने मुल्क को प्यार करता हो वो कभी भी ऐसे नारों को बर्दाश्त नहीं करेगा.'

वहीं इस मुद्दे पर टिप्पणी करते हुए समाजवादी पार्टी के नेता रफ़ीक अंसारी ने एसपी सिटी की निंदा की है. उन्होंने कहा कि इतने बड़े अफ़सर को इस तरह की बातें करना शोभा नहीं देतीं.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.