लॉन्ग वीकेंड की खुशी तो सब समझते हैं, इसका असर सबको समझ नहीं आता. इसी चीज़ को समझने के लिए माइक्रोसॉफ़्ट कंपनी ने अपने जापान के ऑफ़िस में एक ट्रायल किया. वहां सभी कर्मचारियों को शनिवार और रविवार के अलावा शुक्रवार को भी पांच सप्ताह तक लगातार मेहनताना सहित छुट्टी दी गई.

Source: New York Post

2300 कर्मचारियों पर किए गए इस ट्रायल का सबसे बड़ा असर ये हुआ कि कर्मचारियों में कार्यक्षमता 40% बढ़ गई. ये ट्रायल Work-Life Choice Challenge Summer 2019 के तहत किया गया था.

घटे हुए कार्यदिवस की खुशी में कर्मचारियों ने खुशी-खुशी 40% अधिक कार्यक्षमता दिखाई. इसके अलावा, काम के दौरान कर्मचारियों ने 25% कम छुट्टी ली, प्रतिदिन 23% बिजली की बजत हुई, 59% कम पेपर प्रिंट किए गए और 92% कर्मचारियों को यह व्यवस्था पसंद आई.

इस प्रोग्राम के तहत कंपनी अपने कर्मचारियों के फ़ैमली वैकेशन के ख़र्चों का भी कुछ हिस्सा वहन करेगी.

माइक्रोसॉफ़्ट जापान के प्रेसिडेंट और सीईओ Takuya Hirano ने कहा, 'कम समय में काम करो, अच्छे से आराम करो और बहुत सीखो'.

इस तरह के ट्रायल साल 2018 में न्यूज़ीलैंड की कंपनी New Zealand Trust Management कंपनी ने अपने 240 कर्मचारियों के साथ किए थे, वो ट्रायल 2 महीने तक चला था. इसके भी सकारात्मक परिणाम सामने आए थे.

@ScoopWhoop के मैनेजमेंट, आप अपने आप को माइक्रोसॉफ़्ट जापान से कम क्यों समझते हैं!