अलीगढ़ के टिप्पल में एक बच्ची की उसी के पड़ोसी ने बेरहमी से हत्या कर दी. मामला था सिर्फ़ कुछ पैसों का और मृतक के परिवारवालों ने आरोपी को उधार दिए रुपए वापस मांगे.


कचरे के ढेर से बच्ची का क्षत-विक्षत शरीर बरामद किया गया. हत्या इतनी बेरहमी से की गई थी कि उसे लिखा नहीं जा सकती.  

Source: Madhyamam

इस घटना को लेकर पूरे देश में गुस्सा है. सभी हत्यारों के लिए फांसी की सज़ा मांग रहे हैं. 

Source: Dainik Bhaskar

हालांकि यूपी के ही एक मंत्री ने इस मामले में बेशर्मी की सारी हदें पार करते हुए घिनौना बयान दिया है. Indian Express के मुताबिक, मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा, 

'देखिए ये घटनाएं हो जाती हैं. लेकिन ऐसी घटनाओं के ख़िलाफ़ सख़्ती से हम कार्रवाई करते हैं. कुछ मानसिकता भी इसके साथ होती है.'   

इस बयान को पढ़िए और उतनी बार पढ़िए, जब तक आपको ये बयान याद न हो जाए. ये याद न हो जाए कि ये घटनाएं 'नॉर्मल' हैं और 'हो जाती' हैं. ये याद न हो जाए कि एक व्यक्ति, मंत्री होकर भी एक बच्ची के बेरहम क़त्ल पर ऐसा बयान देता है.