हैदराबाद की वेटरनरी डॉक्टर प्रियंका रेड्डी दुष्कर्म और हत्या मामले को लेकर देशभर में आक्रोश का माहौल है. अब इस मामले की सुनवाई फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने घटना के 4 दिन बाद रविवार को इसके आदेश दिए हैं.

Source: janbharattimes

बीते रविवार को मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने कहा कि, ये घटना बेहद खौफ़नाक है. सरकार पीड़ित परिवार की पूरी सहायता करेगी. पुलिस दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाए.

आरोपी की मां ने कहा, बेटे को दे दो फ़ांसी

'इस मामले में आरोपी सी चेन्नाकेशवुल की मां जयम्मा ने कहा कि उसके बेटे से कोई रियायत नहीं बरती जाए. चाहें तो बेटे को उसी तरह ज़िंदा जला दें, जैसे उसने पीड़िता को जलाया था. क्योंकि हमारी भी एक बेटी है, इस नाते हम समझ सकते हैं कि पीड़िता का परिवार किस तकलीफ़ से गुज़र रहा होगा.'

Source: sakshi

जयम्मा ने आगे कहा, 'जब हमें बेटे के इस जघन्य कांड के बारे में पता चला तो मेरे पति को इतना बुरा लगा कि उन्होंने आत्महत्या की कोशिश तक कर डाली थी. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरा बेटा ऐसा कर सकता है. कुछ महीनों पहले ही उसने लव मैरिज की है. तब भी हम लोगों ने उसे कुछ नहीं कहा. यही सोचा कि जो हो गया सो हो गया.'

बता दें कि रंगा रेड्‌डी ज़िले में 26 वर्षीय डॉक्टर प्रियंका रेड्डी से 25 नवंबर की रात सामूहिक दुष्कर्म हुआ था. अगले दिन सुबह उनका जला हुआ शव मिला था.

Source: janbharattimes

साइबराबाद पुलिस ने चार आरोपियों मोहम्मद आरिफ़, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुंटा चेन्नाकेशवुलु को गिरफ़्तार किया है. आरिफ़ की उम्र 26 साल है, जबकि बाकी आरोपियों की उम्र 20 साल है. ये सभी ट्रक ड्राइवर और क्लीनर हैं. इन सभी ने शराब पीने के बाद 7 घंटे तक डॉक्टर के साथ दरिंदगी की थी. इसके बाद पीड़िटता को शादनगर के बाहरी इलाके में जला दिया था.

वहीं पुलिस का कहना है कि वो कोर्ट में याचिका दायर कर आरोपियों की हिरासत की मांग करेगी, ताकि उनसे आगे की पूछताछ की जा सके. इसके पहले कार्यकारी मजिस्ट्रेट ने चारों आरोपियों को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया था.

कई सेलेब्रिटीज़ ने भी प्रियंका रेड्डी के आरोपियों को कड़ी सजा दिलाने की मांग की है-