‘कहीं रोटी के चार हिस्से तो कहीं रोटी चार

कैसे फ़ांदेगा भारत इंडिया की ये ऊंची दीवार’

भारत और इंडिया के बीच ग़ुरबत की एक दीवार है. भारत की तरफ़ दीवार में गोबर से लिपाई की गई है और इंडिया की ओर सब रंग-बिरंगा है. सावन के अंधे को जैसे सब हरा-हरा नज़र आता है, वैसे ही इंडिया के लोगों को भी भारत सोने की चिड़िया लगता है. लगना भी चाहिए, क्योंकि जो बाज़ भारत से इंडिया जाते हैं, वो कभी लौटकर देखते ही नहीं कि चिड़िया सोने की तो है, बस अब पंख पूरी तरह नोचे जा चुके हैं. यक़ीन न हो तो ये ख़बर जान लीजिए.  

Source: runwaygirlnetwork

मध्य प्रदेश के एक शराब कारोबारी ने बुधवार को भोपाल से दिल्ली के लिए एक एयरबस A320 को किराए पर लिया. इस प्लेन में 180 लोगों के बैठने की जगह थी, लेकिन इसमें महज़ उनकी बेटी, दो पोते और नैनी ने सफ़र किया.  

ये आलम तब है, जब इस देश में लाखों की संख्या में प्रवासी मज़दूर सैकड़ों किमी पैदल चलने को मजबूर हैं. उनके पास न खाना है, न ही पैरों में चप्पलें. चलते-चलते तलवे उधड़ गए. खून जमकर काला पड़ चुका है. उन्हें ये सज़ा शायद इंडिया में दाख़िल होने की मिल रही है. अब भारत को लौट रहे हैं, तो उनके लहू के कतरे-कतरे से शाइनिंग इंडिया को चमकाया जा रहा है.   

Source: thehindu

बता दें, बिज़नेसमैन जगदीश अरोड़ा सोम डिस्टिलरीज के मालिक हैं. जब फ़ोन पर संपर्क किया गया, तो उन्होंने शुरू में विमान को किराए पर लेने की बात से ही इन्कार कर दिया और लाइन को डिस्कनेक्ट करने से पहले पूछा, ‘आप निजी मामलों में दख़ल क्यों दे रहे हैं?’  

प्लने को दिल्ली में किराए पर लिया गया था. ये राष्ट्रीय राजधानी से सुबह 9.30 बजे उड़ा और लगभग 10.30 बजे भोपाल पहुंचा. भोपाल से दिल्ली के लिए सुबह क़रीब 11.30 बजे चार लोगों के साथ इसने उड़ान भरी.  

एविएशन डिपार्टमेंट के सूत्रों के मुताबिक़, छह और आठ सीटों वाला चार्टर्ड प्लेन भी मौजूद थे, लेकिन जगदीश अरोड़ा ने एयरबस को ही चुना.  

सूत्र के अनुसार, जिनके पास पैसा है, वो जोख़िम की वजह से दूसरे लोगों के साथ यात्रा नहीं करना चाहते हैं, लेकिन छह और आठ सीटर चार्टर्ड प्लेन से काम चल सकता था.’  

Source: aeroexpo

सूत्रों के मुताबिक़, एक A320 एयरबस को किराए पर लेने की लागत एक घंटे के हिसाब से क़रीब 5 से 6 लाख के बीच है, ये एविएशन टरबाइन फ़्यूल पर निर्भर करता है. मौजूदा अंतरराष्ट्रीय परिस्थितियों के कारण हाल के महीनों में लागत में गिरावट देखी गई है.   

इंडस्ट्री के अंदरूनी सूत्र के अनुमान के मुताबिक़, अरोड़ा ने भोपाल से दिल्ली के लिए चार लोगों को उड़ान भरने के लिए 25 से 30 लाख रुपये के क़रीब दिए हैं.