मुंबई से एक चौंका देने वाली ख़बर सामने आई है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीते शुक्रवार मुंबई के गोवंडी स्टेशन के पास ट्रेन से कटकर एक भिखारी की मृत्यु हो गई. भिखारी की मौत के बाद पता चला कि वो मात्र कहने भर का भिखारी था क्योंकि पुलिस को उसके पास से 1.75 लाख के सिक्के, 8.77 लाख रुपये के फ़िक्स्ड डिपॉज़िट के काग़जात मिले हैं. इसके अलावा उसके बैंक अकाउंट में 96 हज़ार रुपये भी जमा थे.

Mumbai Beggar
Source: mangaloretoday

इन सबके अलावा पुलिस ने उसके घर से पैन कार्ड, आधार कार्ड और सीनियर सिटिज़न कार्ड भी बरामद किया है. भिखारी की उम्र लगभग 82 वर्ष बताई जा रही है और नाम आज़ाद. पुलिस के अनुसार, वो राजस्थान के रामगढ़ से है. पुलिस की छानबीन के दौरान ये भी पता चला कि उसका एक सुखदेव नामक बेटा भी है, जिसका नाम बैंक खाते के Nominee में है.

Beggar Death
Source: lokmat

मामले पर जीआरपी के उप-निरीक्षक प्रवीण कांबले का कहना है कि आज़ाद के घर के अंदर से चार बड़े-बड़े कंटेनर और एक बैरल बरामद किया गया है. कंटेनर के अंदर पाउच में उसने 1 रुपये, 2 रुपये, 5 रुपये और 10 रुपये के सिक्के छिपा कर रखे थे. कांबले का कहना है कि उन्होंने शनिवार दोपहर से सिक्कों की गिनती शुरू की थी और रविवार तक 1.75 लाख रुपये की गिनती पूरी कर पाये.

Rupyee Counting

इसके अलावा सीनियर इन्स्पेक्टर नंदकुमार सासते ने बताया कि झुग्गी में रहने वाले लोगों का कहना है कि वो भिखारी था. मुंबई में वो अकेले रहता था और उसका यहां कोई भी रिश्तेदार नहीं था.

ख़बरों के मुताबिक, आज़ाद कई सालों से गोवंडी में रह रहा था और हार्बर लाइन के रेलवे स्टेशनों पर भीख मांगा करता था. वहीं 4 अक्टूबर को रेलवे क्रॉसिंग को पार करते समय उनकी मौत हो गई. फ़िलहाल पुलिस ने उसके घर से बरामद हुई सारी रकम ज़ब्त कर ली है और स्थानीय पुलिस से संपर्क कर उसके बेटे का पता लगाने की कोशिश की जा रही है.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.