मुंबई में ट्रैफ़िक नियम उल्लंघन की एक बड़ी हैरान कर देने वाली घटना हुई है. यहां टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा की कार का मुंबई पुलिस ने ई-चालान काट दिया. लेकिन बाद में पता चला कि जिस इलाके में ट्रैफ़िक नियम का उल्लंघन हुआ था, वहां से रतन टाटा की कार गुज़री ही नहीं थी.

Source: drilers

टाटा समूह के अधिकारियों ने पुलिस को बताया कि उनकी कार ने कभी भी ट्रैफ़िक नियमों की अनदेखी नहीं की. इसके बाद पुलिस भी परेशान हो गई, क्योंकि जिस नंबर प्लेट पर चालान जारी हुआ था, वो नंबर रतन टाटा की कार का ही था.

जांच हुई तो हैरान रह गई पुलिस

Source: thehindu

मामला हाई प्रोफ़ाइल था, तो पुलिस ने जांच भी फ़ुल स्पीड से शुरू की. हर उस जगह के सीसीटीवी फुटेज खंगाल डाले, जहां उस नंबर वाली गाड़ी ने ट्रैफिक नियमों का उल्‍लंघन किया था. पता चला कि जिस नंबर पर जुर्माना लगाया गया था, वो तो रतन टाटा की कार का ही था, लेकिन कार उनकी नहीं थी. दरअसल, एक महिला रतन टाटा की कार की नंबर प्‍लेट का इस्‍तेमाल कर रही थी. 

महिला से पूछताछ में सामने आया ज्योतिष एंगल

Source: womenshealthmag

कार का पता चलते ही पुलिस ने महिला को थाने बुला लिया. उस पर आईपीसी की धारा-420, 465 और सेंट्रल मोटर व्हीकल एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया. पूछताछ में पता चला कि ये सारा कांड अंक ज्‍योतिष पर विश्‍वास करने के चक्‍कर में हुआ है. महिला अपनी असली प्‍लेट निकालकर ज्‍योतिषी के बताए नंबर वाली प्‍लेट लगाकर घूम रही थी.

एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘आरोपी ने ज्योतिषीय अंक का लाभ लेने के लिए मूल नंबर प्लेट में फेरबदल करके अपनी कार पर नकली नंबर प्लेट का इस्तेमाल किया था. रतन टाटा के स्वामित्व वाली कार को भेजे गए सभी ई चालान अब आरोपी को ट्रांसफ़र कर दिए गए हैं.’