पिछले साल 30 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि देश भर के सिनेमा घरों में फ़िल्म शुरू होने से पहले राष्ट्रगान बजाया जाएगा. किसी भी फ़िल्म के प्रदर्शन से पहले ये अनिवार्य होगा और उस समय दर्शकों को खड़े होकर राष्ट्रगान के प्रति सम्मान दिखाना होगा.

थिएटर में राष्ट्रगान लागू करने को लेकर काफी विवाद खड़ा हुआ था. इस आदेश के बाद राष्ट्रगान के समय, कई लोगों के खड़े न होने के चलते झड़प और मार-पिटाई की घटनाएं भी सामने आई थीं.

सिनेमाघरों का ये विवाद अब फ़्लाइट्स तक जा पहुंचा है.

amazonaws

स्पाइसजेट की एक फ़्लाइट में राष्ट्रगान बजने का मामला सामने आया है. दरअसल विमान की लैंडिंग होने ही वाली थी कि उस समय अचानक ही पीए सिस्टम से राष्ट्रगान बजना शुरू हो गया.

इस दौरान सभी यात्री सीट बेल्ट से बंधे होने के कारण अपनी सीट पर ही बैठे रहे. यात्रियों के सामने यह संकट खड़ा हो गया कि वह राष्ट्रगान के सम्मान में खड़े हों या फ़्लाइट नियमों का उल्लंघन करें.

इस विमान में सफ़र कर रहे एक यात्री के मुताबिक, विमान लैंडिंग से पहले कैबिन क्रू ने राष्ट्रगान चला दिया. ऐसे में यात्री और केबिन क्रू खड़े होने और राष्ट्रगान को उचित सम्मान देने की स्थिति में नहीं थे. इसे लेकर पुनीत तिवारी नाम के इस शख़्स ने शिकायत भी दर्ज कराई है.

हालांकि कैबिन क्रू ने तुरंत ही राष्ट्रगान को बीच में ही बंद कर दिया. एक यात्री ने घटना का वीडियो भी बनाया है. इस बारे में एयरलाइंस से शिकायत भी दर्ज कराई है. पुनीत के मुताबिक, इस घटना के प्रति जिस तरह से उदासीनता और लापरवाही बरती गई है, उससे उन्हें काफ़ी चोट पहुंची है.

वहीं, स्पाइसजेट प्रवक्ता ने कहा कि ‘फ़्लाइट में सवार एक क्रू ने प्लेलिस्ट में एक गलत नंबर सेलेक्ट कर दिया, जिसकी वजह से राष्ट्रगान बजना शुरू हो गया. इस बात का पता लगते ही राष्ट्रगान को बंद कर दिया गया था. यात्रियों को इस वजह से होने वाली परेशानियों के लिए हम खेद प्रकट करते हैं’.

Source: TOI