नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो(NCRB) की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, भारत में 2001-2017 के बीच हत्याओं का तीसरा सबसे बड़ा कारण हैं, प्रेम.


2001 में NCRB ने ख़ून के 36, 202 मामले दर्ज किए वहीं 2017 में संख्या घटकर 28,653 रही.

Source: NBC News

2016 में हॉनर किलिंग ने 71 जानें ले लीं. 2017 में ये संख्या बढकर 92 हो गई.


Times Now News की रिपोर्ट के अनुसार, आंध्र प्रदेश, पंजाब, गुजरात और महाराष्ट्र में हुई हत्याओं का सबसे बड़ा कारण था प्रेम. दिल्ली, कर्नाटक, तमिलनाडु में हत्याओं का दूसरा सबसे बड़ा कारण था प्रेम.

Source: Qns

सीनियर पुलिस अफ़सरों के मुताबिक़, ज़्यादातर हत्याएं एक्स्ट्रा मैरिटल अफ़ेयर और लव ट्रैंगल के कारण हुईं.