"नमस्कार, हमारा देश और पूरा विश्व आज कोविड-19 की चुनौती का सामना कर रहा है. Covid-19 अभी खत्म नहीं हुआ है, ऐसे में हमारा फ़र्ज़ है कि हम सतर्क रहें. इसलिए जब तक दवाई नहीं, तब तक कोई ढिलाई नहीं."
Source: DNA India

पिछले कई महीनों से ये सुन-सुन कर अगर आपके कान पक चुके हैं तो आपके लिए एक ख़ुशख़बरी है. अब ये कॉलरट्यून आपको नहीं सुनाई देगा. 15 जनवरी यानी कि आज से अमिताभ बच्चन की आवाज़ वाली Covid कॉलरट्यून की जग़ह आपको एक नई कॉलरट्यून सुनाई देगी. 

Source: BBC

अब आप किसी को फ़ोन लगाएंगे तो कॉलरट्यून में आपको जसलीन भल्ला की आवाज़ सुनाई देगी. सरकार अब कोरोना वैक्सीन के प्रति जागरूकता फैलाना चाहती है इसलिए कॉलरट्यून को बदला गया है. नई कॉलरट्यून में लोगों को टीके को लेकर जागरूक किया जाएगा और ये संदेश दिया जाएगा कि वो किसी भी अफ़वाह पर भरोसा न करें.

Source: jknewspoint.com

30 सेकंड तक बजने वाली नई कॉलरट्यून हिंदी और अंग्रेज़ी, दोनों भाषाओं में होगी. ग़ौरतलब है कि कोरोना के शुरूआत में जो कलरट्यून सबसे पहले रिकॉर्ड की गई थी वो भी वॉइस ओवर आर्टिस्‍ट, जसलीन भल्‍ला की ही आवाज़ में थी. वो एक दशक से वॉइस ओवर आर्टिस्ट के तौर पर काम कर रही हैं. इनकी आवाज़ हम दिल्ली मेट्रो, स्पाइस जेट और इंडिगो की फ़्लाइट्स में भी सुनते आए हैं.

Source: Aljajeera

ग़ौरतलब है कि अमिताभ बच्चन की आवाज़ वाली कॉलर ट्यून को हटाने को लेकर पिछले दिनों दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दाख़िल की गयी थी. याचिका में दलील दी गई थी कि कॉलरट्यून के रूप में अमिताभ बच्चन की आवाज़ को तुरंत हटाया जाना चाहिए, क्योंकि वो ख़ुद पूरे परिवार समेत कोरोना वायरस से संक्र्मित हो चुके हैं तो वो कैसे लोगों को जागरूकता का पाठ पढ़ा रहें हैं. महामारी को अब एक साल होने वाला है और काफ़ी लोग ये कॉलरट्यून सुनते-सुनते ऊब चुके थे. नई कॉलरट्यून को लेकर लोगों का क्या रुख रहता है अब तो ये आने वाला वक़्त ही बताएगा. 

Source: aljazeera.com

स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से ये कहा जा रहा है कि देश भर में 16 जनवरी से कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण अभियान शुरू होगा.