दिल्ली में सड़क हादसों के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं. इस वजह से कई लोगों की मौत भी हो रही है. एक रिपोर्ट के अनुसार, सबसे ज़्यादा मौत उन लोगों की हुई है, जिन्हें समय पर किसी कारणवश इलाज नहीं मिल पाया हो. ऐसे में दिल्ली सरकार सड़क हादसों में घायलों की मदद करने वालों को दो हज़ार रुपए ईनाम के तौर पर देगी. इतना ही नहीं, संबंधित अस्पताल से एक प्रशस्ति पत्र भी दिया जाएगा.

यह दिल्ली सरकार की पहल है, जो बेहद शानदार है. इस पहल के कारण कई लोगों की जान बचाई जा सकती है. घायलों को समय पर मदद मिल सकती है. इस बात की घोषणा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने अपने निवास स्थान पर की.

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस व्यवस्था के लागू होने से दिल्ली में सड़क दुर्घटनाओं में घायल होने वाले बहुत से लोगों की जान बचाई जा सकेगी. देश की राजधानी दिल्ली में सड़क दुर्घटनाओं की संख्या बहुत अधिक है.

आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में लगभग 8500 लोग सड़क दुर्घटनाओं में घायल हुए और इसमें से 1,600 की मौत हुई. इसमें से कई ने अस्पताल समय से न पहुंचने के कारण दम तोड़ दिया.

मदद नहीं करने की असली वजह ये है

एक अध्ययन में यह बात भी सामने आई है कि लोग पुलिस से परेशान होकर घायलों की मदद नहीं करते हैं. उन्हें पुलिस व प्रशासन द्वारा फंसा देने का डर रहता है. लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री की पहल से अब उन्हें इनाम भी मिलेगा और सम्मान भी.

ये घोषणा सिर्फ़ दिल्ली के लिए ही नहीं पूरे देश के लिए होनी चाहिए. देश के सभी हिस्सों से इस तरह का मामले सामने आते हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री के इस फैसले का हम स्वागत करते हैं.