देश में कई राज्य इस वक़्त कोरोना वायरस से लड़ने में लगे हैं. ये जंग कितनी मुश्क़िल है, उसकी गवाही हर रोज़ तेज़ी से बढ़ रहे संक्रमित मरीज़ों के आंकड़े दे रहे हैं. हालांकि, केरल एक ऐसा राज्य बन गया है, जो कोरोना को मात देता नज़र आ रहा है. राज्य में कोरोना वायरस से ठीक हुए लोगों की संख्या एक्टिव संक्रमित मरीज़ों से ज़्यादा हो गई है.

Source: economictimes

बड़े पैमाने पर नमूनों को एकत्र करना और तेज़ी से परीक्षण करने का ही नतीजा है कि अब सकारात्मक परिणाम नज़र आने लगे हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक़, एक प्रेस वार्ता में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने खुलासा किया कि देश भर में ठीक हो चुके 857 मरीज़ों में से केरल शीर्ष पर है.

केरल में 13 अप्रैल तक एक्टिव केस घटकर 178 हो गए, जबकि ठीक हुए मरीज़ों की संख्या 198 पर पहुंच गई. साथ ही केरल उन राज्यों में शामिल है, जहां सबसे कम मौतें हुई हैं. यहां अब तक सिर्फ़ तीन लोगों की मौत हुई है.

केरल के वित्त मंत्री थॉमस इसाक ने भी ट्वीट कर बताया कि राज्य में कोरोना वायरस का प्रसार कम होने लगा है.

केरल को मिल रही सफ़लता पर पूरे देश में ख़ुशी है. ऐसे में ट्विटर भी लोग इसे लेकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं और अन्य राज्यों को भी इसे फॉलो करने के लिए कह रहे हैं.

निश्चित तौर पर केरल में कोरोना वायरस के घट रहे आंकड़ों को देखकर अन्य राज्यों को भी उम्मीद बंधेगी.