नोट- 'किसी भी स्कूल या कॉलेज में किसी छात्र को शारीरिक दंड देना या उसका मानसिक उत्पीड़न करना अपराध है जो कोई भी इस प्रावधान का उल्लंघन करेगा, उसके ख़िलाफ़ सख़्त अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी'.

बावजूद इसके ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर के एक प्रसिद्ध निजी कॉलेज में दो छात्रों को शारीरिक यातना देने की घटना सामने आई है. भुवनेश्वर के 'गांधी साइंस कॉलेज' के हॉस्टल वॉर्डन द्वारा छात्रों की बेरहमी से पिटाई वाला एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर ख़ूब वायरल हो रहा है.

मामला 11 अगस्त का बताया जा रहा है. वीडियो में हॉस्टल वॉर्डन बिश्वरंजन राणा दो छात्रों को लाठी-डंडों से बेरहमी से पीट रहा है. जिसमें वो छात्रों को पीटते हुए कह रहा है 'कितने मार्क्स आए?

Source: hindustantimes

ये मामला 17 अगस्त को उस वक़्त सामने आया जब किसी ने इस घटना का वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया.

बताया जा रहा है कि बिश्वरंजन इन दोनों छात्रों का जानकार है. क्योंझर और जजपुर ज़िले के रहने वाले इन दोनों छात्रों ने बिश्वरंजन की सिफ़ारिश से ही इस कॉलेज में एडमिशन लिया था.

कॉलेज के प्रिंसिपल सुधांशु शेखर मोहराना का कहना है कि, इन दोनों छात्रों के पेरेंट्स ने बिश्वरंजन को यहां पर उनके अभिभावक की जिम्मेदारी दी हुई थी, ताकि बच्चे मन लगाकर पढ़ाई कर सकें. लेकिन ख़राब परदर्शन करने पर बिश्वरंजन ने उनकी बेरहमी से पिटाई कर दी.

Source: ommcomnews

ये एक निंदनीय घटना है, साथ ही बेहद दुर्भाग्यपूर्ण भी. हालांकि, अभी तक मुझे दोनों छात्रों के पेरेंट्स की ओर से कोई शिकायत नहीं मिली है, फिर भी कॉलेज प्रशासन ने आरोपी वॉर्डन को नौकरी से हटा दिया है. प्रिंसिपल ने कहा साथ ही कहा कि कॉलेज प्रशासन ने वॉर्डन के ख़िलाफ़ एफ़आईआर भी दर्ज करा ली है.

प्रिंसिपल ने कहा साथ ही कहा कि कॉलेज प्रशासन ने वॉर्डन के ख़िलाफ़ एफ़आईआर भी दर्ज करा ली है.