प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अक्सर सोशल मीडिया पर काफ़ी एक्टिव रहते हैं. बीते सोमवार को उन्होंने एक ट्वीट करते हुए लिखा था 'सोच रहा हूं इस रविवार को अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट्स फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब छोड़ दूं'.

बस फिर क्या था मीडिया में ख़बर फ़ैल गई कि पीएम मोदी हमेशा के लिए सोशल मीडिया से दूरी बनाने जा रहे हैं. आम जनता के सवालों से बचने के आरोप तक लगा डाले थे. बहुत सारे फ़ॉलोअर्स ने सोशल मीडिया से अलग न होने की मिन्नतें कीं.

Source: theweek

इस बीच मोदी के इस ट्वीट को करीब 49 हज़ार बार रीट्वीट किया गया और लोग उनसे अनुरोध करते रहे कि वो सोशल मीडिया अकाउंट्स बंद न करें.

मंगलवार को क़रीब 16 घंटे के बाद उन्होंने इस सस्पेंस से पर्दा हटाते हुए ट्वीट किया कि- 'इस महिला दिवस को वो अपना सोशल मीडिया अकाउंट उन महिलाओं को समर्पित करेंगे, जिनसे वो प्रेरित हुए हैं. साथ ही ऐलान किया कि महिला दिवस के मौके पर चलाए जा रहे इस कैंपेन में कोई भी हिस्सा ले सकता है'.

प्रधानमंत्री ने आगे लिखा, 'क्या आप वो महिला हैं या आप ऐसी किसी महिला को जानती हैं जिन्होंने आपको प्रेरित किया हो? अपनी ऐसी ही कहानी को साझा करें. इसके साथ #SheInspiresUs.

Source: twitter

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस कैंपेन के तहत कुछ चिन्हित महिलाओं को ही उनके सोशल मीडिया अकाउंट संभालने का मौका मिलेगा. 'महिला दिवस' के मौके पर इन्हीं चिन्हित महिलाओं में से कोई उनका ट्विटर और फ़ेसबुक तो कोई उनका इंस्टाग्राम अकाउंट को संभालेंगी.

Source: timesofindia

जानकारी दे दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के बाद सोशल मीडिया पर सबसे ज़्यादा फॉलो किए जाने वाले नेता हैं. ट्विटर पर उन्हें 5 करोड़ 33 लाख से भी ज़्यादा लोग फ़ॉलो करते हैं. फ़ेसबुक की बात करें तो पीएम मोदी को 4 करोड़ 47 लाख से भी ज़्यादा लोग फ़ॉलो करते हैं जबकि इंस्टाग्राम पर भी उनके 3 करोड़ 52 लाख फ़ॉलोअर्स हैं. यूट्यूब पर उनके 4 करोड़ 51 लाख सब्सक्राइबर्स हैं.