भारत में लोकसभा चुनाव चल रहे हैं. 12 मई को दिल्ली की सातों सीटों पर मतदान होना है. दिल्ली में मुख्य रूप से तीन ही पार्टियों के बीच कुर्सी को लेकर युद्ध चल रहा है, बीजेपी, कांग्रेस और आप.


पूर्वी दिल्ली से आप की उम्मीदवार हैं आतिशी मार्लेना और बीजेपी के उम्मीदवार हैं पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूर्वी दिल्ली की कई सोसाइटी, कॉलोनी में आतिशी के बारे में लिखे पर्चे बांटे जा रहे हैं. इस पर्चे में आतिशी के लिए कई भद्दे, अभद्र और अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया है.


आप का कहना है कि बीजेपी और पूर्वी दिल्ली से बीजेपी उम्मीदवार गौतम गंभीर ने ये पर्चे बंटवाये हैं.

आप ने इस संबंध में एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस भी की जिसमें पर्चा पढ़ते-पढ़ते आतिशी रोने लगीं.

इस पूरे वाकये पर ट्विटरवालों के बीच भी मतभेद दिखा. कुछ लोगों ने इसके लिए गौतम गंभीर और बीजेपी को खरी-खरी सुनाई है

तो कुछ लोग इसे आप का ही कर्म बता रहे हैं

पर्चे वाली ख़बर के वायरल होते ही बीजेपी उम्मीदवार गौतम गंभीर ने भी दनादन ट्वीट्स कर आप को चुनौती दी है.

'मैं केजरीवाल द्वारा एक महिला के सम्मान के साथ खिलवाड़क की निंदा करता हूं और वो भी उनकी सहकर्मी. और ये सब महज़ चुनाव जीतने के लिए? आपके गंदे दिमाग़ की सफ़ाई के लिए आपके अपने झाड़ू की ज़रूरत है.'

'मेरा दूसरा चैलेंज केजरीवाल और आतिशी के लिए. अगर ये किसी तरह साबित होता है कि ये मैंने किया है तो मैं अपनी उम्मीदवारी अभी वापस ले लूंगा. अगर नहीं, तो क्या वो राजनीति छोड़ेंगे?'

'मुझे अरविंद केजरीवाल को अपना मुख्यमंत्री कहते हुए शर्म आती है.'

राजनीति तो ठीक है पर ऐसी गंदी राजनीति शायद देश में पहली बार ही हो रही है.