इस दुनिया के बाहर भी कोई दुनिया है या नहीं? ये जिज्ञासा हर किसी के मन में रहती है. कई लोग दावे कर चुके हैं कि बाहरी दुनिया से यूएफ़ओ यानि उड़न तश्तरियां हमारी पृथ्वी पर आती रही हैं. कुछ लोग इन्हें देखने का दावा भी कर चुके हैं, लेकिन हमेशा इन्हें आंखों का धोखा या वहम मानकर ख़ारिज़ कर दिया जाता है. मगर अब पेंटागन ने तीन शॉर्ट वीडियो जारी किए हैं, जिनमें अनआइडेंटिफाइड फ्लाइंग ऑब्जेक्ट दिखाई दे रहे हैं.

The Guardian की रिपोर्ट के मुताबिक़, इन वीडियोज को अमेरिकी नेवी पायलटों ने इंफ़्रारेड कैमरों से शूट किया है. जिसमें अनआइडेंटिफाइड फ्लाइंग ऑब्जेक्ट लगातार मूव करते दिख रहे हैं.

इनमें से एक वीडियो 2004 का है, दो अन्य 2015 में दर्ज किए गए थे. अमेरिकी नौसेना ने भी सितंबर 2019 में उनकी प्रामाणिकता को स्वीकार किया था.

पेंटागन के प्रवक्ता Sue Gough के मुताबिक़, इस वीडियो को लोगों का ये भ्रम दूर करने के लिए जारी किया है कि जो फ़ुटेज सर्कुलेट हो रहा है वो सच है या नहीं.

अब वीडियो देखने के बाद सोशल मीडिया पर पर कमंट्सबाज़ी शुरू हो गई है. लोग भी ये सोच रहे हैं कि 2020 में अब तक क्या कम कांड हुए हैं जो एक और नया बवाल सामने आ गया.

ख़ैर हम तो भइया यही कहेंगे कि यूएफ़ओ देखने के चक्कर में कोई घर के बाहर न आ जाए. काहे कि पुलिसवाले उड़न खटोला बनाने के लिए डंडो के साथ बाहर ही बैठे हैं.